कलेक्टर ने की खाद वितरण व्यवस्था की समीक्षा, कहा न हो कोई गड़बड़ी

जिले में रबी फसलों के लिये खाद की पर्याप्त उपलब्धता

कलेक्टर ने की खाद वितरण व्यवस्था की समीक्षा, कहा न हो कोई गड़बड़ी

ग्वालियर। जिले में रबी फसलों के लिये रासायनिक उर्वरकों की पर्याप्त उपलब्धता है। खाद वितरण में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो। वास्तविक किसानों को ही खाद दिया जाए। इसमें किसी भी प्रकार की अनियमितता बर्दाश्त नहीं होगी यह निर्देश बुधवार को कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने खाद वितरण व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों को दिए। कलेक्टर सिंह खाद वितरण व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि थोक, फुटकर, सोसायटी एवं डबल लॉक में रखे रासायनिक उर्वरक की नियमित रूप से जाँच अर्थात सत्यापन करें। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश चंदेल, बैठक में जिला पंचायत सीईओ विवेक कुमार, अपर कलेक्टर अंजू अरूण कुमार व टीएन सिंह तथा जिले के सभी एसडीएम व पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

कलेक्टर ने कहा कि जिन किसानों ने एक माह के भीतर 40 बोरी से ज्यादा खाद लिया है उनकी भी जाँच की जाए। जो विक्रेता अथवा किसान के नाम पर अवैध रूप से खाद प्राप्त कर गलत तरीके से मुनाफा कमाने की जुर्रत करे उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने सभी एसडीएम व पुलिस अधिकारियों को भी बेहतर ढंग से खाद वितरण व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि खाद की दुकानों पर गोपनीय तरीके से लाइन में लगकर यह देखें कि किसानों से खाद की ज्यादा कीमत तो नहीं ली जा रही। यदि कहीं ऐसी अनियमितता पाई जाए तो संबंधित के खिलाफ कठोर कार्रवाई कराएँ।

नियमित रूप से न खुलने वाली दुकानें निरस्त करें
कलेक्टर ने कहा सार्वजनिक वितरण प्रणाली की जिन उचित मूल्य की दुकानों के संचालकों ने नवीनीकरण नहीं कराया है और ऐसी दुकानें जो नियमित रूप से नहीं खुलती हैं उन्हें निरस्त करने की कार्रवाई की जाए। उन्होंने पीडीएस वाहनों की जीपीएस के माध्यम से लगातार ट्रैकिंग करने पर भी बल दिया।

Tags:

About The Author

Latest News