किसानों-पशुपालकों के पालतू मवेशियों के नस्ल सुधार अभियान 15 दिसम्बर तक

किसानों-पशुपालकों के पालतू मवेशियों के नस्ल सुधार अभियान 15 दिसम्बर तक

जगदलपुर। कलेक्टर के निर्देशानुसार जिले में पशुपालन विभाग द्वारा किसानों और पशुपालकों के पालतू मवेशियों के नस्ल सुधार के लिए अभियान चलाया जा रहा है। यह अभियान 29 नवम्बर से 15 दिसम्बर तक सभी विकासखण्डों में संचालित किया जा रहा है। जिससे इन किसानों और पशुपालकों को उन्नत नस्ल के नर एवं मादा वत्स प्राप्त हो सकेगा। पशुपालन विभाग द्वारा उक्त पालतू पशुओं के नस्ल सुधार अभियान को लगातार सुचारू रूप से संचालित करने के लिए मोबाइल वेटनरी यूनिट एवं मैदानी अमले की ड्यूटी लगाई गई है। वहीं उक्त अभियान के बारे में व्यापक प्रचार प्रसार कर किसानों एवं पशुपालकों को जानकारी दी जा रही है।

संयुक्त संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं जगदलपुर डॉ. देवेन्द्र नेताम ने इस सम्बंध में बताया कि कलेक्टर विजय दयाराम के निर्देश के अनुरूप जिले में किसानों एवं पशुपालकों के पालतू पशुओं के जरिये उन्नत नस्ल के वत्स उपलब्ध कराने के लिए पालतू मवेशियों का नस्ल सुधार अभियान चलाया जा रहा है। जिससे इन किसानों तथा पशुपालकों को आय संवृद्धि हो सके। उन्होंने बताया कि उक्त अभियान को प्रत्येक ब्लॉक में कलस्टर तैयार कर चलाया जा रहा है, जिसके तहत सम्बंधित कलस्टर के गांवों में व्यापक प्रचार-प्रसार कर किसानों तथा पशुपालकों को अवगत कराया जा रहा है और उन्हें अपने पालतू पशुओं के नस्ल सुधार के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

इस अभियान के लिए मोबाइल वेटनरी यूनिट एवं मैदानी अमले की ड्यूटी लगाई गई है। इसके साथ ही उक्त अभियान के मॉनिटरिंग के लिए सम्बंधित ब्लॉक के सहायक पशु चिकित्सा शल्यज्ञ को जिम्मेदारी सौंपी गई है। नस्ल सुधार अभियान को सुचारू रूप से संचालित करने हेतु प्रत्येक ब्लॉक में 30-30 कलस्टर निर्धारित कर सम्बंधित कलस्टर के गांवों को शामिल किया गया है। उक्त अभियान के दौरान पालतू मवेशियों का उपचार करने सहित किसानों एवं पशुपालकों को हरा चारा उत्पादन यथा बरसीम, नेपियर घास उत्पादन एवं यूरिया पैरा उपचार के बारे में जानकारी दी जा रही है।

Tags:

About The Author

Latest News