विश्वप्रसिद्ध सोहेलवा जंगल को टाइगर रिजर्व घोषित करने के लिए बलरामपुर फर्स्ट ने कसी कमर

बलरामपुर - फर्स्ट की तीसरी आनलाइन मीटिंग सम्पन्न हुई ‌। इस मीटिंग में सभी ने इस बात पर बल दिया कि सोहेलवा वन्य जीव अभ्यारण  के रुप में बलरामपुर और श्रावस्ती के पास एक ऐसी प्राकृतिक संपदा है जो न सिर्फ देवीपाटन मंडल बल्कि पूरे उत्तर प्रदेश के लिए एक बहुत बड़े राजस्व का निर्माण कर सकती हैं। इस कार्यक्रम के संयोजक सर्वेश सिंह ने कहा कि सोहेलवा वन्य जीव अभ्यारण बलरामपुर जनपद की आर्थिक सामाजिक  तस्वीर बदलने में अकेले सक्षम है इसलिए बलरामपुर फर्स्ट सोहेलवा के महत्व को समझते हुए यहां के लोगों की सामाजिक आर्थिक स्थिति से जोड़कर बलरामपुर को प्रगति के पथ पर आगे ले जाने के रूप में देख रहा है।
 
इस मीटिंग में सोहेलवा जंगल के संरक्षण और संवर्धन पर विस्तृत विचार विमर्श के बाद यह निष्कर्ष निकला कि सोहेलवा जंगल को टाइगर रिजर्व के रुप में विकसित करने की दिशा में प्रयास करने की जरूरत है। साथ ही ईको-टूरिज्म की अपार संभावनाओं को देखते हुए इस दिशा में भी शासन व प्रशासन को संवेदनशील बनाने की जरूरत है। इस परिचर्चा में उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार सिद्धार्थ कलहंस,शिक्षाविद् विनोद सिंह,असिस्टेंट प्रोफेसर सुमित सिंह,शिक्षक रवि ज्योति मिश्रा,अभ्युदय कोचिंग के कोआर्डिनेटर सचिन सिंह और राना ऋत्विक ने अपने महत्वपूर्ण विचार साझा किए।
 
 
Tags: Balrampur

About The Author

Latest News

अनर्थकारी है कांग्रेस और सपा का गठबंधन : सीएम योगी अनर्थकारी है कांग्रेस और सपा का गठबंधन : सीएम योगी
एससी-ओबीसी आरक्षण को मुसलमानों में बांटना चाहती हैं कांग्रेस और सपा,,गोरखपुर संसदीय क्षेत्र के पिपराइच में चुनावी जनसभा को संबोधित...
बड़े मंगलभंडारे से पूर्व कराना होगा नगर निगम में पंजीकरण
अस्पताल निदेशक ने उत्कृष्ट कार्य को किया सम्मानित
डीएम इन्द्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न
राम चमेली चड्ढा महाविद्यालय में एक दिवसीय पर्सनालिटी डेवलपमेंट कार्यक्रम संपन्न
विभिन्न श्रेणियों में प्रदान किए जाएंगे राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय पुरस्कार
दिव्यांगजनो को शादी विवाह प्रोत्साहन पुरस्कार योजना में जरुरी नही विवाह पंजीकरण