छतों पर बंदरों का गलियों में कुत्तों का आतंक

छतों पर बंदरों का गलियों में कुत्तों का आतंक

अलीगढ़। वार्ड नं0 62 मोहल्ला सुदामापुरी में बंदरों एवं कुत्तों के आतंक से लोग बुरी तरह से भयभीत हैं। इस मोहल्ले में छतों पर बंदर और गलियों में आवारा कुत्तों का वास होने से मोहल्ले के लोगों के साथ बाहरी लोग और फेरी वाले आने जाने से कतराने लगे हैं। बच्चों और महिलाओं को देखकर ये कुत्तों का झुण्ड काटने के लिए दौडने लगते हैं। दरवाजे ख्ुाले रह जाने पर घरों मंें घुस जाते हैं। अब तो सुदामापुरी को लोग बंदर और कुत्तों वाले मोहल्ला कहने लगे हैं और आने जाने से भी कतराने लगे हैं। लेकिन नगर निगम के अधिकारियों का ध्यान इस ओर नहीं है।वैसे तो अलीगढ़ में ही नहीं देश के कई शहर में आवारा कुत्ते और बंदरों ने आतंक फैला रखा है।
 
इनके काटने से सैकडों महिला, पुरूष और बच्चे से जान गवां बैठे हैं। जिसके लिए नगर निगम की ओर से एक गाइड लाइन भी जारी की गयी है। लेकिन इस पर अमल नहीं किया जा रहा है और न ही संबंधित विभाग भी संज्ञान नहीं ले रहा है। आवारा कुत्तों और बंदरों का भय इतना बढ़ गया हैं कि लोग अपने बच्चों को गली में खेलने तक नहीं देते हैं। रिश्तेदार और फेरी वाले इस मोहल्ले की गली नं0 3 व 4 में आवारा कुत्तों और बंदरों के आतंक से आने जाने से कतराने लगे हैं। सर्दी से बचने के लिए महिलाऐं और बच्चे छतों पर नहीं बैठ सकते हैं, उन्हें डर रहता हैं कि कहीं बंदरों का झुण्ड हमला न करदे।  
Tags: Aligarh

About The Author

Latest News

Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर
कुशीनगर। जनपद में शुक्रवार को कसया थाना क्षेत्र के ग्राम नादह गांव में आपसी रंजिश में चली गोली, एक युवक...
बैंक डकैती : कैशियर को गोली मारकर बैंक लूट का प्रयास,दोनों आरोपी गिरफ्तार
डिस्पोजेबल कप पर लगाने होंगे नाम वाले स्टीकर्स, ताकि कचरा कौन फैला रहा है पकड़ में आ सके!
जल जीवन मिशन की प्रगति के लिए एकजुट होकर करें कार्य - चौधरी
पर्यटन की दृष्टि से विकसित होगा उदयपुर का बाघदड़ा नेचर पार्क
कोडरमा में ढिबरा स्क्रैप मजदूर संघ का धरना 12वें दिन खत्म
25 हजार के कर्ज पर सूद में जुड़ गया पांच लाख, व्यापारी ने लगाई फांसी