भारतीय उच्चायोग ने नेपाल के शहीद सैनिकों की विधवाओं को किया सम्मानित

भारतीय उच्चायोग ने नेपाल के शहीद सैनिकों की विधवाओं को किया सम्मानित

लखनऊ। भारत की ओर से नेपाल के शहीद सैनिकों की विधवाओं और निकट संबंधियों को सम्मानित किया गया। काठमांडू में भारतीय उच्चायुक्त नवीन श्रीवास्तव ने गणतंत्र दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में सैनिकों की विधवाओं और संबंधियों को 5.07 करोड़ नेपाली रुपये का बकाया वितरित करके सम्मानित किया।

भारत की ‘पड़ोसी प्रथम’ नीति पर कायम रहते हुए और नेपाल में सैन्य परिवारों और सेवानिवृत्त सैनिकों की मदद करने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हुए भारतीय उच्चायुक्त ने इस दौरान कंबल भी वितरित किए। इसके अलावा दूतावास ने नेपाल में रहने वाले पूर्व सैनिकों के लिए भारत सरकार की कल्याणकारी पहलों को कवर करने वाली एक पत्रिका का अनावरण किया।

साथ ही राजदूत ने विभिन्न संस्थानों को पुस्तकें भी भेंट कीं। उन्होंने भारतीय दूतावास द्वारा मनाए गए 75वें गणतंत्र दिवस की खुशी में 30 स्थानीय संस्थानों को 19 लाख रुपये की किताबें उपहार में दीं। काठमांडू स्थित भारतीय उच्चायोग ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा राजदूत ने सैनिकों की विधवाओं और निकट संबंधियों को 5.07 करोड़ नेपाली रुपये का बकाया और कंबल वितरित करके सम्मानित किया। भारतीय दूतावास ने 75वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर 30 संस्थानों को 19 लाख रुपये की किताबें उपहार में दी हैं।

समारोह की शुरुआत भारतीय राजदूत द्वारा भारत का राष्ट्रीय ध्वज फहराने के साथ हुई, जिसके बाद राजदूत ने नेपाल में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों को शुभकामनाएं दीं। इसके बाद भारत की माननीय राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्र के नाम संबोधन की एक वीडियो देखी गई।  दूतावास के स्वामी विवेकानंद सांस्कृतिक केंद्र और काठमांडू स्थित केंद्रीय विद्यालय के छात्रों ने मनमोहक सांस्कृतिक प्रस्तुति दी। कार्यक्रम को मिशन के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लाइव-स्ट्रीम किया गया।

About The Author

Latest News