अलवर पुलिस हुई दागदार, भाई को आर्म्स एक्ट में फंसाने की धमकी देकर बहन से किया गैंगरेप

अलवर पुलिस हुई दागदार, भाई को आर्म्स एक्ट में फंसाने की धमकी देकर बहन से किया गैंगरेप

अलवर। अलवर के तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ नाबालिग युवती के साथ दुष्कर्म करने का मामला रैणी थाने में दर्ज हुआ है। मां के साथ थाने पहुंची पीड़िता ने तीन नामजद आरोपियों सहित कई पुलिसकर्मियों पर पिछले दो वर्ष में अलग-अलग जगह ले जाकर शोषण का आरोप लगाया। तीनों आरोपी पुलिसकर्मियों को अलवर पुलिस अधीक्षक ने लाइन हाजिर कर दिया है। मामले की जांच राजगढ़ पुलिस उपाधीक्षक उदय सिंह मीना को सौंपी गई है। आरोपियों पर अलवर एसपी के आदेश पर शनिवार को दुष्कर्म और पोक्सो एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। आरोपियों में कांस्टेबल अविनाश मीणा और राजू रैणी थाने में कार्यरत हैं। जबकि तीसरा आरोपी सिपाही मानसिंह जाट मालाखेडा थाने में पदस्थापित है।

पीड़िता की मां एसपी के समक्ष पेश होकर बताया कि तीनों आरोपी पुलिसकर्मी उसकी बेटी के साथ दो वर्ष से दुष्कर्म करते आ रहे हैं। तब वह नाबालिग थी। आरोपी उसके भाई को आर्म्स एक्ट में फंसाने का धमकी देकर दुष्कर्म करते थे। कांस्टेबल अविनाश आठ नवंबर को उनके घर आया। उस वक्त घर के लोग खेत पर काम करने गए थे। इस दौरान नाबालिग से दुष्कर्म किया। इससे पहले 23 नवंबर 2022 को उनके घर से बालिका को जबरन अपने साथ कार में बिठा ले गया। दूसरे पुलिसकर्मी के घर ले जाकर दुष्कर्म किया। इसके बाद अन्य आरोपी भी अविनाश के साथ आते और भाई को फंसाने की धमकी देकर गैंगरेप करते थे। एएसपी मुख्यालय डॉ तेजपाल सिंह ने बताया कि तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ नाबालिग से दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ है। मामले में अनुसंधान जारी है।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News