डीएम ने की सीएम डैशबोर्ड के विकाश कार्यो की समीक्षा 

डीएम ने की सीएम डैशबोर्ड के विकाश कार्यो की समीक्षा 

उरई जालौन। जिलाधिकारी राजेश कुमार पाण्डेय की अध्यक्षता में कल देर शाम सीएम डैशबोर्ड व विकास कार्यों की समीक्षा बैठक कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।जिलाधिकारी ने सभी संबंधित विभाग के अधिकारियों को टीम भावना के साथ कार्य कर जनपद की रैंकिग में सुधार लाने के निर्देश दिए, साथ ही प्रगति में शिथिलता मिलने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन पारदर्शी व बेहतर ढंग से किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी विभागीय अधिकारी सीएम डैशबोर्ड पर अपने विभाग की रैंकिंग में अपेक्षित सुधार लाएं और टीम भावना के साथ कार्य करके जनपद की रैंकिग बढ़ाएं।

उन्होंने सीएमआईएस पोर्टल पर एक करोड़ से अधिक लागत की परियोजनाओं की समीक्षा की जिसमें समस्त अधिशासी अभियंताओं तथा परियोजना प्रबंधक को जल्द से जल्द कार्य करने हेतु निर्देशित किया। बैठक में उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड, उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण एवं श्रम विकास सहकारी संघ लिमिटेड, उत्तर प्रदेश सिडको व आरएनएसएस विभाग के परियोजना प्रबंधक अनुपस्थित रहने पर कड़ी चेतावनी के साथ स्पष्टीकरण के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों को ससमय गुणवत्तापरक पूर्ण करें, इसमें किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जाए। 

उन्होंने उत्तर प्रदेश सिडको की 05 निर्माणाधीन परियोजनाएं, लोक निर्माण की 24, सिंचाई एवं जल संस्थान विभाग की 17, उत्तर प्रदेश पुलिस आवास निगम लिमिटेड की 04, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग की 16, उत्तर प्रदेश आरएनएसएस की 05 व डीएलसीएफ विभाग की 02, सीएनडीएस विभाग की 03, उत्तर प्रदेश जल निगम की 01, राज्य सेतु निगम की 06, व यूपी पीसीएल की 01 की निर्माणाधीन परियोजनाएं निर्धारित अवधि में पर्ण न होने पर कड़ी फटकार लगाई, साथ ही निर्देशित किया कि सभी निर्माणाधीन परियोजनाओं को एक माह के अंदर पूर्ण करना सुनिश्चित करें, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही व शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

उन्होंने उपायुक्त उद्योग को निर्देशित किया कि एमओयू की संख्या के सापेक्ष जीबीसी तैयार कर एमओयू बढ़ाने के निर्देश दिए ताकि निवेश तेज गति से बढ़ावा मिल सके। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी व मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण के लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति धीमी होने पर निर्देशित किया कि योजनाओं की प्रगति में सुधार लाएं। उन्होंने ग्रामीण अभियंत्रण विभाग की समीक्षा में कार्य असंतोषजनक होने पर निर्देशित किया कि रुचि के साथ कार्य करें और कार्यों को पूर्ण कर प्रगति में सुधार लाएं। जिला पंचायत राज्य अधिकारी को निर्देशित किया कि व्यक्तिगत शौचालय के निर्माण कार्यों को शतप्रतिशत पूर्ण किया जाए। 

उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को कहा कि समस्त विद्यालय में इंडिकेटर के संगेतांक की प्रगति बढ़कर ए श्रेणी में लाया जाए। मिड डे मील, छात्र-छात्राओं अध्यापक अध्यापको की उपस्थिति में सुधार हेतु नियमित निरीक्षण प्रगति में सुधार लाया जाए। उन्होंने अंडा उत्पादन व पशुओं की कृत्रिम गर्भाधान की काम प्रगति होने पर नाराजगी प्रकट की साथ ही मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि अंडा उत्पादन व पशुओं की कृत्रिम गर्भाधान कर प्रगति में तेजी लाएं। कन्या सुमंगला योजना की लगातार तीन माह से खराब प्रगति पर जिलाधिकारी ने प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिए कि कन्या सुमंगला योजना की प्रगति में 15 दिवस के अंदर सुधार होना चाहिए।

इसमें किसी प्रकार की उदासीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने लोक निर्माण विभाग की नई सड़कों का निर्माण व सेतु का निर्माण सड़कों के अनुरक्षण हेतु निर्देशित किया गया कि जल्द निर्माणाधीन कार्यों को पूर्ण करें।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी भीमजी उपाध्याय, प्रभागीय वनाधिकारी जयप्रकाश नारायण तिवारी, परियोजना निदेशक शिवकांत द्विवेदी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेंद्र देव शर्मा, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ निर्मल कुमार, उप कृषि निदेशक एसके उत्तम, जिला विकास अधिकारी सुभाष चंद्र त्रिपाठी आदि सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Tags: Orai

About The Author

Latest News