जदयू विधायक राजकुमार सिंह के व्यवहार की आईएमए ने किया निंदा

 जदयू विधायक राजकुमार सिंह के व्यवहार की आईएमए ने किया निंदा

01dl_m_460_01122023_1। मटिहानी के जदयू विधायक और विधानसभा में सत्ताधारी दल के सचेतक राजकुमार सिंह एवं बेगूसराय सदर अस्पताल के चिकित्सक डॉ. चंदन कुमार के बीच हुई तीखी बहस की इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने निंदा की है। आइएमए ने इस घटना को अशोभनीय और दुखद बताया है।

आईएमए के सचिव डॉ. रंजन कुमार चौधरी ने शुक्रवार को कहा है कि मटिहानी विधायक राजकुमार सिंह का रिएक्शन अशोभनीय है। पद-प्रतिष्ठा बनने के बढ़ाने के बाद शालीनता आनी चाहिए। विधायक को डॉ. चंदन कुमार के साथ इस प्रकार का व्यवहार नहीं करना चाहिए। डॉक्टर भी पदाधिकारी होते हैं। भारत में हर किसी को आत्मसम्मान के साथ जीने का अधिकार है।

उन्होंने कहा कि किसी के आत्मसम्मान पर ठेस नहीं पहुंचना चाहिए। अगर विधायक जी को लगा कि डॉक्टर ने कोई गलती की है, अच्छा इलाज नहीं हो रहा है तो सिविल सर्जन से कहनी चाहिए। अस्पताल प्रबंधन से शिकायत करनी चाहिए थी, ना कि कैमरा के सामने डांटना-फटकारना और जलील करना चाहिए था। यह घटना निंदनीय और असहनीय है।

आईएमए हर चिकित्सक के साथ खड़ा रहता है। आत्मसम्मान पर चोट पहुंचाने के इस कार्य की आईएमए निंदा करता है। जल्द ही बैठक कर आगे का निर्णय लिया जाएगा। डॉक्टर का भी पक्ष जाना जाएगा। हालांकि विधायक ने जो किया है वह कोई बड़ी बात नहीं रही। कुछ दिन पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में जिस प्रकार से पूरे बिहार की गरिमा को रौंदा डाला था। उस लिहाज से विधायक जी की भाषा को नाजायज नहीं कहा जा सकता है।

Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News

चारधाम यात्रा के दौरान अब तक 52 तीर्थयात्रियों की मौत चारधाम यात्रा के दौरान अब तक 52 तीर्थयात्रियों की मौत
देहरादून। चारधाम यात्रा के दौरान अब तक कुल 52 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से सबसे अधिक 23...
आजम खान परिवार को हाईकोर्ट से मिली राहत- सात साल की सजा पर लगी रोक
ए0टी0एल0 ग्राउण्ड से मतदान हेतु सभी पोलिंग पार्टियॉ रवाना हुई 
जिलाधिकारी ने जनपद के सभी मतदाताओं से शत प्रतिशत मतदान करने की अपील की
नदी में उतराता मिला युवती का शव,नहीं हो पाई शिनाख्त
लिटिल फ्लावर कान्वेंट स्कूल के समर कैम्प के साथ स्काउट गाइड कार्यक्रम का हुआ समापन
महोबा:जिला निर्वाचन अधिकारी ने लिया स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा