पाक खूफिया एजेंसी के लिए काम करने वाले दो गिरफ्तार

एटीएस को खुफिया जानकारी मिली थी कि कुछ लोगों को संदिग्ध स्रोतों से प्राप्त हो रहा पैसा

पाक खूफिया एजेंसी के लिए काम करने वाले दो गिरफ्तार

  • पूछताछ में बताया कि सेना से जुड़ी जानकारी देते थे

लखनऊ। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी  के लिए जासूसी करने एवं संदिग्ध टेरर फाईनेसिंग के आरोप में दो अभियुक्तों को यूपी एटीएस द्वारा गिरफ्तार किया गया है। एटीएस को सूचना प्राप्त हो रही थी कि कुछ लोगो को संदिग्ध स्रोतों से पैसा प्राप्त हो रहा है, जिसका प्रयोग आतंकी गतिविधियों व जासूसी में किया जा रहा है। साथ ही पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी  के संपर्क में आकर, पैसों के लालच मे जासूसी कर, गोपनीय तथा संवेदनशील सूचनाएं भी भेजी जा रही हैं। प्राप्त जानकारी को विकसित किया गया, जिसमें आसूचना के तथ्यों की पुष्टि हुई। पुष्टि उपरान्त इस संबंध में थाना-एटीएस, लखनऊ में विभिन्न धाराओं में रियाजुद्दीन, इजहारुल व पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के एजेंट के विरूद्ध मुकदमा पंजीकृत किया गया।

उक्त अभियोग की गहन विवेचना करते हुए साक्ष्य संकलन की कार्रवाई की गयी। साक्ष्य संकलन के दौरान रियाजुद्दीन के बैंक खातों का विश्लेषण किया गया तो ज्ञात हुआ कि इसके एक खाते में अज्ञात स्रोतो से मार्च 2022 से अप्रैल 2022 के बीच लगभग 70 लाख रुपए आये।

जिसे भिन्न- भिन्न खातों में भेजा गया। इसी क्रम में करक को सूचना भेजने वाले ऑटो चालक अमृत गिल को भी आर्थिक सहयोग बैंक ट्रान्सफर के माध्यम से किया गया। अमृत गिल द्वारा पाकिस्तानी खुफिया एजेन्सी को भारतीय आर्मी टैंक इत्यादि की संवेदनशील सूचनाएं साझा की गयी। रियाजुद्दीन एवं इजहारूल की मुलाकात वेल्डिगं का कार्य करते समय राजस्थान में हुई थी, तब से दोनो एक दूसरे के सम्पर्क में रह कर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिये कार्य कर रहे है।

उपरोक्त दोनो द्वारा संचालित बैंक खातों में पैसा भेजने वाले एवं प्राप्त पैसे को इनके द्वारा अन्य बैंक खातों में ट्रान्सफर किये जाने वाले, खाता धारकों की जांच की जा रही है। जिससे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी से जुड़े अन्य लोगों की भी पहचान कर उनके विरूद्ध आवश्यक विधिक कार्रवाई की जा सके। विवेचना से प्रकाश में आए अभियुक्त अमृत गिल उर्फ अमृत पाल सिंह उर्फ अमृत उर्फ मंत्री पुत्र परमजीत सिंह, मूल निवासी ग्राम दुल्लेवाल थाना-फूल, जिला-भटिंडा, पंजाब को 23नवंबर को देर रात तलवंडी साबो, भटिंडा, पंजाब, से गिरफ्तार कर, ट्रांजिट रिमाण्ड पर लाया गया एवं नामजद अभियुक्त रियाजुद्दीन पुत्र अनवर, निवासी अंसारिमान, फरीदनगर, थाना-भोजपुर, गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश को विस्तृत पूछताछ के लिए तलब किया गया था, जिसे रविवार को उक्त अभियोग में गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ और प्रारम्भिक साक्ष्य संकलन से ज्ञात हुआ कि अमृत गिल पाकिस्तानी करक एजेंट्स के संपर्क में था और भारतीय सेना से जुड़ी संवेदनशील एवं प्रतिबंधित जानकारियां करक को भेजा करता था। इस कार्य के बदले अमृत गिल को करक पाकिस्तानी हँडलर द्वारा रियाजुद्दीन व इजहारुल की मदद से आर्थिक सहयोग पहुंचाया जाता था। अभियोग उपरोक्त में नामजद एक अन्य अभियुक्त इजहारुल पूर्व से ही बिहार की बेतिया जेल मे बन्द है। जिसे वारंट-बी दाखिल कर लखनऊ लाकर, टेरर फन्डिग के स्रोतो के सम्बंध में पूछताछ कर, इस नेटवर्क से जुडे अन्य व्यक्तियों को चिन्हित कर, उनके विरूद्ध विधिक कार्रवाई की जायेगी।

Tags: lucknow

About The Author

Latest News

Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर
कुशीनगर। जनपद में शुक्रवार को कसया थाना क्षेत्र के ग्राम नादह गांव में आपसी रंजिश में चली गोली, एक युवक...
बैंक डकैती : कैशियर को गोली मारकर बैंक लूट का प्रयास,दोनों आरोपी गिरफ्तार
डिस्पोजेबल कप पर लगाने होंगे नाम वाले स्टीकर्स, ताकि कचरा कौन फैला रहा है पकड़ में आ सके!
जल जीवन मिशन की प्रगति के लिए एकजुट होकर करें कार्य - चौधरी
पर्यटन की दृष्टि से विकसित होगा उदयपुर का बाघदड़ा नेचर पार्क
कोडरमा में ढिबरा स्क्रैप मजदूर संघ का धरना 12वें दिन खत्म
25 हजार के कर्ज पर सूद में जुड़ गया पांच लाख, व्यापारी ने लगाई फांसी