शहादत दिवस पर याद किए गए  राष्ट्रपिता महात्मा गांधी 

शहादत दिवस पर याद किए गए  राष्ट्रपिता महात्मा गांधी 

बेगूसराय। शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति की ओर से मंगलवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का शहादत दिवस स्वर्ण जयंती पुस्तकालय के प्रांगण में मनाया गया। जिसमें सबसे पहले जिला अधिकारी रोशन कुशवाहा एवं अन्य पदाधिकारियों ने माल्यार्पण किया। शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति के संयोजक व शिक्षक नेता अमरेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि महात्मा गांधी को आज ही के दिन नाथूराम गोडसे के द्वारा गोली मारने के दौरान उनकी मृत्यु हो गई थी। आज उनका शहादत दिवस भारत में मनाया जाता है। वर्ष 1948 को उनकी हत्या हो गई थी। उन्होंने कहा कि गांधी जी आज नहीं है, किंतु उनके विचार और आत्मा जन-जन में व्याप्त है। गांधी जी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर नामक स्थान पर हुआ था। उनकी मृत्यु 1948 ईस्वी को दिल्ली के बिरला भवन में हुआ था। शहादत के रूप में अंतिम में हे राम का उच्चारण किए थे। छात्र अनिकेत कुमार पाठक ने कहा कि महात्मा गांधी हमारे भारत नहीं बल्कि उन्हें विश्व जानता था। दधिचि देह दान समिति के जिला अध्यक्ष सुशील कुमार राय ने कहा कि बापू के शहादत से संपूर्ण देश आक्रांत हो उठा था। क्योंकि उनमें देशभक्ति और देश की आत्मा बसती थी। इस अवसर पर राजीव कुमार उर्फ मुन्ना, संतोष कुमार ईश्वर, दिलीप कुमार सिन्हा समाजसेवी, राजेंद्र, रामबिलास सिंह, कांग्रेस नेता ब्रज किशोर सिंह, रवि शंकर पोद्दार, राजेंद्र महतो अधिवक्ता, जेपी सेनानी आदमकद और शहीद स्थल पर माल्यार्पण किया।
 
 
Tags:

About The Author

Latest News