अमानवीयता का वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी ने की कार्यवाही

मुरादाबाद। दो दिन पूर्व बाल्टी चोरी के आरोपी को घसीटते हुए मेडिकल करवाने के लिए ले जाने पर दो पुलिसकर्मियों को एसएसपी जे रविन्द्र गौड़ ने निलबिंत कर दिया है। बीते 8 जुलाई को दो पुलिसकर्मियों द्वारा चोरी के आरोपी को जिला अस्पताल में घसीटते हुए ले जाने का एक वीडियो वायरल हुआ था।
पुलिस के मुताबिक वायरल वीडियो की जांच की गई जिसमें वह वीडियो मुरादाबाद के जिला अस्पताल का पाया गया, जहां कटघर थाने के दो सिपाही सुमित कुमार और प्रदीप गिरी लाजपत नगर में चोरी के एक आरोपी बिलाल को घसीटते हुए जिला अस्पताल में ले जा रहे थे। उसपर बाल्टी चोरी का आरोप था जिसे स्थानीय लोगों ने पकड़ कर कटघर थाना पुलिस को सौपा था। वीडियो वायरल होने की जानकारी के बाद एसएसपी जे रविन्द्र गौण ने उसकी जांच कराई और दोषी पाए गए दोनों सिपाहियों को मंगलवार रात पुलिस की छवि आम जनता में धूमिल होने एवं सिपाहियों द्वारा अपने कर्तव्यपालन के प्रति घोर लापरवाही व अनुशासनहीनता बरतने के आरोप में निलम्बित कर दिया। हालांकि वायरल वीडियो में दोषी सिपाहियों के अलावा दो और पुलिसकर्मी दिखाई दे रहे जो इस अमानवीयता के दौरान साथ रहे। लेकिन यहां उन पुलिसकर्मियों पर एसएसपी द्वारा कोई कार्यवाही क्यों नहीं की गई। यह चर्चा का विषय बना हुआ है।
बुधवार को एसपी सिटी अंकित मित्तल ने बताया कि सोशल मीडिया पर कटघर थाने के दो सिपाहियों द्वारा अमानवीयता किये जाने का वीडियो वायरल हुआ था जिसकी जांच कराई गई थी। जांच में वायरल वीडियो सही पाए जाने पर दोनों पुलिसकर्मियों के तत्काल निलबंन का आदेश दिया गया है। इस मामले की जांच के भी आदेश दिए गए है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper