भारत तीसरा टेस्ट जीतने से महज सात विकेट दूर

नई दिल्ली।  भारत और श्रीलंका के बीच तीसरे टेस्ट मैच में चौथे दिन का खेल खत्म हो गया है। दूसरी पारी में श्रीलंका ने 03 विकेट के नुकसान पर 31 रन बना लिए हैं। श्रीलंका की टीम को अभी भी जीत के लिए 379 रन की जरुरत है।

दिल्ली टेस्ट मैच की दूसरी पारी में जीत के लिए मिले 410 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका की टीम का पहला विकेट समाराविक्रमा के तौर पर गिरा। उन्हें मो. शमी ने 5 रन पर आउट किया। समाराविक्रमा का कैच रहाणे ने पकड़ा। इसके बाद जडेजा ने 13 रन पर खेल रहे करुणारत्ने को विकेटकीपर साहा के हाथों कैच आउट करवाकर भारत को दूसरी सफलती दिला दी। इसी ओवर में जडेजा ने नाइट वॉचमैन के तौर पर आए सुरंगा लकमल को बोल्ड कर श्रीलंका को तीसरा झटका दे दिया।

भारत ने दूसरी पारी 05 विकेट के नुकसान पर 246 रन बनाकर पारी घोषित कर दी। इससे पहले, भारत के पहले विकेट के रूप में मुरली विजय 9 रन बनाकर लकमल की गेंद पर विकेटकीपर डिकवेला को कैच दे बैठे। कप्तान कोहली ने अजिंक्य रहाणे को खराब फॉर्म से उबरने का मौका ऊपर भेज कर दिया, लेकिन वो 10 रन बनाकर परेरा की गेंद पर संदकन को कैच दे बैठे और भारत को लगा दूसरा झटका। चेतेश्वर पुजारा अपने अर्धशतक से ठीक पहले 49 रन पर धनंजय डी सिल्वा का शिकार बने और मैथ्यूज ने उन्हें स्लिप में कैच किया। तेज अंदाज में खेल रहे शिखर धवन संदकन की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में आगे बढ़े और डिकवेला ने उन्हें स्टंप कर दिया। धवन ने 67 रनों की अपनी पारी के दौरान 2,000 टेस्ट रन भी पूरे कर लिए हैं। विराट कोहली (50) को गमागे ने लकमल के हाथों कैच आउट करवाकर भारत को पांचवां झटका दिया। जिस समय भारत ने पारी घोषित की तब रोहित शर्मा 50 और रवींद्र जडेजा 04 रन बनाकर खेल रहे थे।

तीसरे दिन के खेल में पूर्व श्रीलंकाई कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने दो साल बाद टेस्ट क्रिकेट में शतक जमाया और चांडीमल के साथ मिलकर 181 रन की साझेदारी की। इसके बाद वो 111 रन के स्कोर पर अश्विन की गेंद पर साहा को कैच दे बैठे और भारत को ऐसे मिली तीसरे दिन की पहली सफलता। रिद्दीमान साहा ने इशांत शर्मा की गेंद पर 33 रन पर खेल रहे सदीरा का बेहतरीन कैच लेकर उनकी पारी पर ब्रेक लगा दिया। इसके बाद अश्विन ने अगले ही ओवर में अपना पहला मैच खेल रहे रोशन सिल्वा (00) को धवन के हाथों कैच आउट करवाकर एक बार फिर से भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। अश्विन ने ही डिकवेला को शून्य के स्कोर पर बोल्ड करके श्रीलंका को सातवां झटका दिया। इसके बाद शमी ने लकमल को 05 रन के स्कोर पर साहा के हाथों कैच करवाकर मेहमान टीम को आठवां झटका दिया। इसके बाद जडेजा ने गमागे (01) को एलबीडब्ल्यू आउट कर श्रीलंका को नौवां झटका दे दिया। भारतीय टीम तीसरे दिन श्रीलंकाई पारी का समापन नहीं कर सकी।

दूसरे दिन के खेल में श्रीलंका की पारी शुरु हुई तो शमी ने पहली ही गेंद पर दिमुथ करुणारत्ने (00) को विकेटकीपर साहा के हाथों कैच आउट करवा कर भारत को पहली सफलता दिला दी। इसके बाद इशांत शर्मा ने धनंजय डी सिल्वा (01) को एलबीडब्ल्यू आउट कर भारत को दूसरी सफलता दिला दी। 42 रन पर खेल रहे दिलरुवान परेरा को जडेजा ने एलबीडब्ल्यू आउट कर भारत को तीसरी सफलता दिला दी। पहले जब जडेजा ने अपील की तो अंपायर ने परेरा को आउट नहीं दिया फिर कप्तान कोहली ने रिव्यू लिया तो थर्ड अंपायर के निर्देश के बाद अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ा और टीम इंडिया को मिली तीसरी सफलता।

 

=>
loading...
E-Paper