रूस की सेना में कार्यरत तीन नेपाली नागरिकों की यूक्रेन युद्ध में मौत

रूस की सेना में कार्यरत तीन नेपाली नागरिकों की यूक्रेन युद्ध में मौत

काठमांडू। रूस की सेना में कार्यरत तीन नेपाली नागरिकों की यूक्रेन के साथ जारी युद्ध में मौत हो गई। इनके परिवारों को मौत के दो हफ्ते बाद सूचित किया गया है । मास्को स्थित नेपाली दूतावास ने इनकी मौत की पुष्टि करते हुए परिवार वालों को जानकारी दी है। दूतावास ने काठमांडू स्थित विदेश मंत्रालय के मार्फत भेजे गए पत्र में तीनों के पार्थिव शरीर को वापस नेपाल भेजने के लिए समन्वय करने का अनुरोध किया है। दूतावास के द्वितीय सचिव सुशील घिमिरे की तरफ से भेजे गए पत्र में मृतकों का विवरण दिया गया है। इस विवरण के मुताबिक मृतकों में स्यांग्जा निवासी प्रीतम कार्की (पासपोर्ट नम्बर बीएओ 150320), दोलखा निवासी राज कुमार रोका (पासपोर्ट नम्बर बीएओ 254301) और इलाम निवासी गंगाराज मोक्तान (पासपोर्ट नम्बर 09200751) शामिल हैं। नेपाल के विदेश मंत्रालय ने इनके परिवारों सूचित कर दिया। इनमें से कार्की और रोका नेपाली सेना में काम कर चुके हैं। मोक्तान नेपाल की सशस्त्र प्रहरी बल से अवकाशप्राप्त जवान था।

नेपाल के विदेश मंत्री एनपी साउद ने कहा है कि मौत कहां हुई है और किन परिस्थितियों में हुई है इस बात की पूरी जानकारी ली जा रही है। मास्को से तीनों के पार्थिव शव लाने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। साउद ने बताया कि रूस-यूक्रेन युद्ध शुरू होते ही सभी नागरिकों को किसी भी देश के सेना में भर्ती ना होने के लिए अपील की गई थी। मगर यह तीनों उससे पहले से सेना में कार्यरत थे या फिर बाद में हुए, इस बात की जानकारी भी जुटाई जा रही है।

Tags:

About The Author

Latest News

डीएम की अध्यक्षता व निर्देशन में जनपद की तीनों तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस सम्पन्न डीएम की अध्यक्षता व निर्देशन में जनपद की तीनों तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस सम्पन्न
गाजियाबाद। ( तरूणमित्र ) 22 जुलाई। डीएम इन्द्र विक्रम सिंह के निर्देशन में जनपद की तीनों तहसील में प्रत्येक माह...
एटम बम से खतरनाक साइबर अटैक : प्रकाश सिंह
द हंस फाउंडेशन ने नगर पालिका बालिका इंटर कॉलेज चन्द्रपुरी में हंस वेलनेस सेंटर का उद्घाटन किया
कांवड मार्ग पर दुकानों पर नाम लिखने के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक : इंद्रजीत सिंह टीटू
जाम से निजात हेतु एसडीएम ने सीओ को भेजा पत्र
निस्तारण में लापरवाही क्षम्य नही : अपर जिलाधिकारी
बकाया मूल्यांकन पारिश्रमिक का भुगतान एक सप्ताह में कर दिया जाएगा-डीआईओएस