(People gathered)
(People gathered)(People gathered)

लव जिहाद के खिलाफ साधु संतो के साथ सडको पर उतरा जनसैलाब (People gathered)

नासिक. महाराष्ट्र के नासिक में लव जिहाद के खिलाफ आज बड़ी संख्या में लोगों (People gathered) ने प्रदर्शन किया है. ये विरोध प्रदर्शन सकल हिंदू समाज की तरफ से आयोजित किया गया. नासिक शहर में निकाले गए इस साइलेंट मार्च में सड़कों पर जनसैलाब उमड़ा पड़ा. साधू, संतों के साथ हजारों की संख्या में लोग इस साइलेंट मार्च में शामिल हुए. इस मार्च में शामिल लोगों ने श्रद्धा वालकर की हत्या के आरोपी आफताब पूनावाला को फांसी की सजा देने की मांग की.

नासिक के साइलेंट मार्च में शामिल लोगों ने कहा कि लव जिहाद विरोधी कानून बनाया जाए. विरोध प्रदर्शन के दौरान यह मांग उठाई गई कि महाराष्ट्र सहित देश के हर राज्य में धर्म परिवर्तन रोकने का कानून कड़ाई से लागू किया जाए. गौरतलब है कि हाल ही में महाराष्ट्र के मालेगांव में कथित ‘लव जिहाद’ का मामला सामने आया था. एक आदिवासी समुदाय की एक 14 वर्षीय नाबालिग लड़की का 24 अक्टूबर को अपहरण कर लिया गया था. अगले दिन लड़की की मां ने पुलिस में अपनी बेटी के अपहरण की शिकायत दर्ज कराई. नाबालिग लड़की को मालेगांव से अगवा कर उससे जबरन शादी कराने के आरोप में पुलिस ने सूरत से इमरान शेख को गिरफ्तार किया था.

पुलिस करीब 18 दिन बाद पीड़िता को छुड़ाने में कामयाब रही थी. उस वक्त भी इसे ‘लव जिहाद’ का एक रूप बताते हुए हिंदुत्ववादी संगठनों ने एक संवाददाता सम्मेलन में संदिग्ध की मदद करने वाले सभी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की थी. पुलिस पीड़ित लड़की को बरामद करने के साथ ही संदिग्ध इमरान शेख को सूरत से हिरासत में लिया था. फिर भी हिंदूवादी संगठनों का आरोप था कि इस पूरे मामले में पुलिस की कार्य प्रणाली संदिग्ध रही थी. इन लोगों की मांग थी कि इस मामले के संदिग्ध इमरान की मदद करने वाले रिश्तेदारों, काजियों और जादू-टोना करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

 

See also  महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर?