भाजपा पार्षदों की गुंडागर्दी पहले गरीब दुकानदार, अब महिला पत्रकार को पीटा : डाॅ. बीपी त्यागी

दुकान से लिए सामान के पैसे मांगने पर पार्षद ने गुंडों संग दुकान ही तोड़ दी, वाह री राजनीति तेरे खेल निराले..और गरीबों के मुंह के तुम छीन रहे निवाले, दूसरी ओर महिला पत्रकार को पीटा : डाॅ. बीपी त्यागी

भाजपा पार्षदों की गुंडागर्दी पहले गरीब दुकानदार, अब महिला पत्रकार को पीटा : डाॅ. बीपी त्यागी

गाजियाबाद। ( तरूणमित्र ) सच तो ये है कि जब हम अपने लिए एक जनप्रतिनिधि को चुनते हैं तो उस समय हम यह कतई नहीं सोचते हैं कि हमारे द्वारा चुना हुआ जनप्रतिनिधि हमारे लिए ही एक दिन काल बन जाएगा, और उससे भी बड़ी बात ये है कि जिन पार्टियों से वह जनप्रतिनिधि चुनाव लड़ते हैं उन पार्टियों के द्वारा एक गुंडे प्रवृति के व्यक्ति को आखिर टिकट क्यों दिया जाता है, दरअसल कई गुंडई प्रवृति के लोगों की हमें जानकारी न होने के चलते हम सब इसलिए भी वोट करते हैं कि हमारी पसंद की पार्टी से वह चुनाव लड़ रहा होता है इसी के साथ उसका असली रूप तो तब दिखाई देता है जब हमारे द्वारा उसे वोट देकर कुर्सी पर बैठाया जाता है, लेकिन सही मायने में अगर आप देखेंगे तो हकीकत यह है कि आमजन के साथ अगर कोई जनप्रतिनिधि गलत व्यव्हार करता है तो उसे तत्काल प्रभाव से उसके पद को मुक्त कर देना चाहिए और यह सरकारों के द्वारा ही किया जा सकता है ताकि अन्य और भी लोग इस बात से सबक ले सकें कि अगर उनके द्वारा गलती से भी ऐसा किया गया तो उनके साथ भी यही होगा। इन सब बातों को तरूणमित्र संवाददाता से साझा करते हुए वरिष्ठ ईएनटी सर्जन और राष्ट्रवादी नवनिर्माण दल के प्रदेश महासचिव और स्वास्थ्य प्रभारी डाॅ. बीपी ने कहा कि बेहद निंदनीय बात है कि एक गुंडे प्रवृति के जनप्रतिनिधि का सहयोग पूरे का पूरा दल कर रहा है, उन्होंने कहा कि भाजपा पार्षद सुधीर कुमार द्वारा एक गरीब दुकानदार को पीटने के मामले में उसे गिरफ्तार कर जेल भेज देने में पुलिस की कार्य शैली की सराहना करना चाहिए क्यों कि पुलिस आमजन की सुरक्षा के लिए होती है और ऐसे में पुलिस ने अपने फर्ज का निर्वहन कर गरीबों के दिलों में अपने लिए जगह बनाने का काम किया है और आमजन को इस मामले को लेकर पुलिस पर अधिक भरोसा भी बढ़ गया है। डॉ. त्यागी ने कहा कि अब दूसरी तरफ फिर एक भाजपा पार्षद पति ने एक चैनल की महिला पत्रकार को पीटा और उसकी टीम को भी पीटा गया इसी के साथ कैमरे और मोबाइल फोन भी तोड़ दिये गये, उन्होंने कहा कि सत्ता का नशा किस कदर चढ़ कर बोल रहा है जैसे इनकी सत्ता अब जाएगी नहीं, उन्होंने कहा कि इस मामले में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को हस्तक्षेप करना चाहिए और पार्टी के सभी सहयोगी पार्षद मेयर समेत जो एक ग़लत प्रवृत्ति के पार्षद का साथ दे रहे हैं उनके लिए भी स्वयं ही मुख्यमंत्री को इस बात की सलाह देना चाहिए कि गलत का विरोध करो, उसका साथ देना भी एक पाप माना जाएगा। इस बात से बहुतेरे जन-प्रतिनिधियों को सबक मिलेगा जो मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ और पार्टी के लिए एक नजीर साबित होगा। इसी के साथ सुधीर कुमार को उनकी पार्षदी से उन्हें पद मुक्त कर देना चाहिए चूंकि इससे पार्टी और मुख्यमंत्री की छवि धूमिल होने से बच जाएगी और मुख्यमंत्री पर आमजन का भरोसा और अडिग होगा।

Tags:

About The Author

Latest News

कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत से जीत की मनाई खुशी कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत से जीत की मनाई खुशी
कौशाम्बी । जिले के चरवा नगर पंचायत में कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत जीत की खुशी में...
सर्वोच्च न्यायालय के गुजारा भत्ता फैसले का मुस्लिम महिलाओं ने किया स्वागत
महिला थाना द्वारा 04 परिवारों के मध्य कराया गया सुलह समझौता
सुदिती ग्लोबल एकेडमी में शिक्षक, शिक्षिकाओं की कार्यशाला
कांवड़ यात्राओं के मद्देनज़र पुलिस -प्रशासन हुआ सजग
आयकर बाध्यताओं को लेकर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
INDIA गठबंधन को मिली प्रचंड जीत देश की जनता की जीत और भाजपा के मुंह पर करारा तमाचा : कांग्रेस