दया ,करुणा,ममता व त्याग की प्रतिमूर्ति थी मां अकलेश देवी

बृहद पैमाने पर वृद्ध असहायो में बटे उनके जीवन उपयोगी सामाग्री 

दया ,करुणा,ममता व त्याग की प्रतिमूर्ति थी मां अकलेश देवी

समाज सेविका के रूप में ममता मयी मां अकलेश   की भूमिका सदा याद रखा जाएगा: :बाबु जी

×गोरखपुर । आज  मां अकलेश  स्मृति सेवा परिषद, डा अशोक कुमार श्रीवास्तव फैंस क्लब व् शीतला प्रसाद फूलमती देवी शिक्षा संस्थान के  संयुक्त तत्वावधान में मां अकलेश की 25 वीं (पुण्यतिथि) स्मृति दिवस पर प्रमुख रूप से प्रमुख समाजसेवी  दुर्गा प्रसाद (बाबु जी) व  परिवार के सदस्यों सहयोगियों  के द्वारा  पुष्पांजलि व् श्रद्धांजलि के उपरांत झरवा , बड़गो स्थित गोकुलधाम(वृद्ध असहायो एवम्  विक्षिप्त जानो के रहने का घर) पर सभी उपस्थित वृद्ध असहायों को उनके जीवन यापन संबंधित सामाग्री प्रदान किया गया ,साथ ही साथ उनके साथ सभी लोगो भोजन भी कराया गया । आज के इस पुनीत आयोजन से सभी वृद्ध लोगो चेहरे पर गजब का सुंदर भाव था,होम परिसर में माहौल काफी भाउक जैसा रहा । सभी उपस्थित वृद्ध जनों ने एक स्वर से मां अक्लेश के परिवार जनों को खूब आशीर्वाद व् साधु वाद दिया ।

तत्पश्चात बाबु जी   दुर्गा प्रसाद ने अपने संबोधन में कहा कि एक समाज सेविका के रूप में ममता मयी मां अकलेश   की भूमिका सदा याद रखा जाएगा,मां अकलेश ने अपने जीवन काल में जरूरतमंदों के साथ-साथ सामाजिक उत्थान की दिशा में निरंतर मानव मात्र के प्रति दया करुणा एवं प्रेम का  भाव विद्यमान रहता था अपने स्वभाव के अनुरूप ही जीवन भर कमजोर महिलाओं एवं बालिकाओं के लिए हर समय मदद करने को तत्पर रहती थी उन्होंने जो कुछ भी किया किया हम सभी के उनकी सेवाओं को से सीख लेनी चाहिए।
 इस अवसर पर  ई प्रदीप कुमार(रेलवे अधिकारी) डॉ मनोज कुमार(विभागाध्यक्ष शिक्षा शास्त्र सेडीका) ने कहा कि मां के जैसी पुण्य आत्मा की स्मृति में दीन दुखियों के प्रति दया करुणा एवं सहानुभूति का भाव रखते हुए उनकी हर तरह से सहायता करना हमारा धर्म है। समाज के विकास की धारा को तभी सही दिशा मिल सकेगी जब हर वर्ग अपनी जरूरतों को पूरा पूरी कर सके। और अपनी जरूरतों को सुनिश्चित करने में सफल हो, ऐसा तभी संभव है जब आर्थिक सामाजिक दृष्टि से कमजोर वर्ग की हरसंभव सहायता हो,परिषद कई दशको से इस दिशा में बेहतर प्रयास कर रहा है ।
   प्रसिद्ध रेलवे एक्टिविस्ट ई. रंजीत कुमार व निवेदिता ने कहा कि मां अकलेश ने  ग़रीब परिवारों की महिलाओं की सहायता एवं सेवाओं से अपने जीवन का अधिकांश समय दिया।
सहयोग कार्यक्रम के अन्त में सभी अस हायो ने में मां अकलेश देवी के लिए ईश्वर से प्रार्थना की,साथ ही साथ परिवार के उज्जवल भविष्य की कामना किए ।
     इस अवसर पर अपने संबोधन में मांगीरिश् ग्रुप के मुखिया ई. संजीत व स्मिता ने कहा कि मां अकलेश   ने महिलाओं व बच्चियों के  समस्याओं को  उठाते हुए विशेष रूप से उल्लेख करते हुए कहा कि मानव मात्र के प्रति दया करो एवं प्रेम व सहयोग की भावना से कार्य करना चाहिए। मां अकलेश की समाज की सेवा को हमेशा ये समाज याद रखे गा।
 सभी का आभार व् संचालन करते समाजसेवी  मंजीत कुमार(बाबु) ने किया।
    इस अवसर पर प्रमुख रूप स डॉ पी के श्रीवास्तव,डा किरन, अर्चना, डा विभा ,निवेदिता,स्मिता,मनीषा,इं.रंजीत कुमार, बैंक अधिकारी शिखर वर्मा, भावना, इ. प्रखर आशीष कुमार,शिवम अग्रवाल,रवि श्रीवास्तव,निर्मल , दीपक कुमार,ई अनुभव ,मंगीरिश , मानित, सौम्या,अंशिका राहुल उपाध्याय , कृष्णकांत चौधरी, सुनील चौधरी, परूष्राम यादव,अमरजीत गौतम सहित भारी संख्या में हर समाज हर तबके के लोग भारी संख्या में उपस्थित थे।

 

Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News

21 अप्रैल को सीएम पुष्कर धामी, उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य, सांसद मनोज तिवारी नीरज सिंह करेंगे गाजियाबाद में सभाएं 21 अप्रैल को सीएम पुष्कर धामी, उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य, सांसद मनोज तिवारी नीरज सिंह करेंगे गाजियाबाद में सभाएं
गाजियाबाद। ( तरूणमित्र ) लोकसभा चुनाव का प्रथम चरण पूरा होते ही दूसरे चरण के चुनाव प्रचार में तेज़ी बढ़ा...
धोखाधड़ी कर 57 लाख रुपया ठगी करने के आरोप में दो लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज
भाजपा उम्मीदवार 22 अप्रैल से दाखिल करेंगे नामांकन पर्चा
मोबाइल चोरी मामले में बंगाल के चार चोर गिरफ्तार, 13 मोबाइल बरामद
सड़क हादसे में महिला की मौत, दो घायल
9790 मतदानकर्मियों को मिला द्वितीय चरण का चुनाव प्रशिक्षण
आईआरसीटीसी के बेंडरो की मनमानी से यात्रियों को  हुई परेशानी