जिले में विकसित भारत संकल्प यात्रा का हुआ शुभारंभ

02-02 ग्रामों में पहुॅची एलईडी वैन, शिविरों की हुई स्थापना

जिले में विकसित भारत संकल्प यात्रा का हुआ शुभारंभ

अलीगढ़। मंगलवार को विकसित भारत संकल्प यात्रा का जिले में शुभारंभ हो गया। जिले में 07 एलईडी वैन के माध्यम से केंद्र सरकार की योजनाओं को जन-जन पहुॅचाया जाएगा। एक दिन में 02 ग्राम पंचायतों में एलईडी के माध्यम से मा0 प्रधानमंत्री जी का संदेश सुनाया जाएगा, तो वहीं शिविरों की स्थापना कर लाभार्थीपकर योजनाओं से छूटे हुए परिवारों एवं व्यक्तियों को लाभान्वित भी किया जाएगा। 
केंद्र सरकार की योजनाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए खैर के ग्राम गौमत एवं सुजानपुर में वैन के माध्यम से मा0 प्रधानमंत्री जी का संदेश सुनाया गया। शिविर में ’’मेरी कहानी-मेरी जुबानी’’ थीम पर स्वयं सहायता समूह, आयुष्मान भारत योजना, पीएम किसान सम्मान निधि समेत अन्य योजनाओं के लाभार्थियों ने अपनी सफलता की कहानी उपस्थितजनों को बताई। 21 नवम्बर से आरम्भ हुई यात्रा 26 जनवरी 2024 तक चलेगा। इसके माध्यम से केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं को जिले के अंतिम व्यक्ति तक पहुॅचाने का कार्य किया जा रहा है। 
डीपीआरओ धनंजय जायसवाल ने बताया कि संकल्प यात्रा का मुख्य उद््देश्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में जागरूक करना, आवश्यक वित्तीय सेवाओं के बारे में ज्ञानवर्धन करना, खाद्य सुरक्षा, उपयुक्त सुपोषण, विश्वसनीय स्वास्थ्य सेवाएं, गरीबों के लिए आवास जैसी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करना है। खण्ड विकास कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में एलईडी के माध्यम से योजनाओं के बारे में समझाया गया, वहीं विभिन्न विभागों द्वारा भी स्टॉल लगाकर योजनाओं से वंचित पात्र व्यक्तियों के मौके पर ही फार्म भरवाए गये। स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीकाकरण, परिवार नियोजन, हैल्थ चैकअप एवं विभिन्न प्रकार के पंजीकरण का लाभ पात्र लाभार्थियों एवं जरूरतमंदों को दिया गया। मौके पर आयुष्मान गोल्डन कार्ड भी बनाए गये। 
’’मेरी कहानी-मेरी जुबानी’’ थीम पर स्वयं सहायता समूह राधे कृृष्ण की लाभार्थी कु0 सपना ने बताया कि समूह के माध्यम से ब्यूटी पार्लर का संचालन कर 08-10 हजार रूपये मासिक आमदनी कर रही है। जय भोले समूह संचालिका नीतेश ने बताया कि ससुराल में घर से निकलने की अनुमति नहीं थी, गरीबी के चलते सारे अरमान अधूरे थे, पति का साथ मिला, उन्होंने पढ़ाई भी कराई और समूह के बारे में बताया। बैंक सखी एवं स्टेशनरी वितरण कर मासिक 10 हजार रूपये तक की आमदनी कर रही हैं, पति को भी बैंक के माध्यम से लोन दिलाकर 07 सीटर ईको गाड़ी खरीदी, वह भी लगभग 30 हजार रूपये मासिक कमा रहे हैं। अब कमाई के साथ ही सपने भी पूरे हो रहे हैं। आयुष्मान कार्ड धारक बिजेन्द्री कहतीं हैं कि मोदी की बदौलत वह जिंदा हैं। डाक्टर ने जब दिल की बीमारी की खबर दी तो घर भर में सन्नाटा पसर गया, आयुष्मान कार्ड न होता तो दिल के छल्ले न पड़ पाते, पित्थ में फंसी पथरी भी नहीं निकल पाती। रमा ने बताया कि जबवह बीमार हुईं तो अस्पताल का सारा खर्चा गोल्डन कार्ड से हुआ। वैसे भी उनके पास इलाज के खर्च के लिए कुछ नहीं था। नरेश ने बताया कि पैर का फ्रैक्चर हो जाने के बाद आयुष्मान कार्ड से ही ईलाज हुआ, एक भी पैसा खर्च नहीं हुआ आज उनका पैर ठीक है। पीएम किसान सम्मान निधि के लाभार्थी ने बताया कि 2000 रूपये की सम्मान राशि से खाद-बीज खरीदने में मदद मिल रही है। 
इस अवसर पर एडीआई संदीप कुमार, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी रजनीश पाण्डेय, जिला कृषि अधिकारी अमित जायसवाल, डा0 रोहित भाटी, डा0 के0के0 राना, बीडीओ खैर विजय कुमार तिवारी, लेखपाल सुनील कुमार सहित अन्य विभागीय अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे। 

12

Tags:

About The Author

Latest News

Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर
कुशीनगर। जनपद में शुक्रवार को कसया थाना क्षेत्र के ग्राम नादह गांव में आपसी रंजिश में चली गोली, एक युवक...
बैंक डकैती : कैशियर को गोली मारकर बैंक लूट का प्रयास,दोनों आरोपी गिरफ्तार
डिस्पोजेबल कप पर लगाने होंगे नाम वाले स्टीकर्स, ताकि कचरा कौन फैला रहा है पकड़ में आ सके!
जल जीवन मिशन की प्रगति के लिए एकजुट होकर करें कार्य - चौधरी
पर्यटन की दृष्टि से विकसित होगा उदयपुर का बाघदड़ा नेचर पार्क
कोडरमा में ढिबरा स्क्रैप मजदूर संघ का धरना 12वें दिन खत्म
25 हजार के कर्ज पर सूद में जुड़ गया पांच लाख, व्यापारी ने लगाई फांसी