नरेन्द्र मोदी की हरगांव रैली से चार लोकसभा क्षेत्रों के मतदाताओं को साधेगी भाजपा

नरेन्द्र मोदी की हरगांव रैली से चार लोकसभा क्षेत्रों के मतदाताओं को साधेगी भाजपा

सीतापुर। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सीतापुर जिले के हरगांव स्थित चीनी मिल के मैदान में शाम 4:45 बजे चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे। हरगांव की रैली से भाजपा की रणनीति धौरहरा, लखीमपुर, सीतापुर और मोहनलालगंज लोकसभा क्षेत्र के मतदाताओं को साधने की है।भाजपा की राज्य, क्षेत्र एवं जिला इकाई के प्रमुख पदाधिकारी प्रधानमंत्री की जनसभा को सफल बनाने के लिए पिछले तीन दिनों से पूरी ताकत के साथ इलाके में डेरा डाले हुए हैं। प्रशासनिक अमला भी सुरक्षा की दृष्टि से रणनीति बनाकर अधीनस्थों को दिशा निर्देश देने में लगा हुआ है। मोदी करीब 40 मिनट हरगांव में रहेंगे।

एसपीजी के अधिकारी हेलीपैड से लेकर मंच के पंडाल तक की व्यवस्था अपने हाथ मे लेकर अधिकारियों को अहम निर्देश देकर पूरा खाका बनाने में जुटे हुए हैं।प्रधानमंत्री इस सभा के माध्यम से धौरहरा लोकसभा क्षेत्र की प्रत्याशी रेखा वर्मा, लखीमपुर के प्रत्याशी अजय मिश्रा टेनी, सीतापुर के प्रत्याशी राजेश वर्मा और मोहनलालगंज के कौशल किशोर के समर्थन में जीत का विगुल फूंकेंगे। यह जनसभा वैसे तो धौरहरा लोकसभा क्षेत्र में है लेकिन भाजपा यहां से चार लोकसभा क्षेत्रों के मतदाताओं तक मोदी के विकसित भारत का संदेश पहुंचाना चाहती है। हरगांव धौरहरा लोकसभा क्षेत्र में आता है। भाजपा के जिला अध्यक्ष राजेश शुक्ला, सीतापुर प्रत्याशी राजेश वर्मा तथा धौरहरा की प्रत्याशी रेखा वर्मा का कहना है कि दो लाख से अधिक लोग प्रधानमंत्री की जनसभा में पहुंचेंगे।

वैसे तो पौराणिक ग्रंथों के अनुसार महाभारतकालीन राजा विराट की नगरी को लेकर देश के कुछ अन्य इलाकों का उल्लेख मिलता है, परंतु किंवदंती के अनुसार हरगांव क्षेत्र का महाभारतकालीन इतिहास से जुड़ाव रहा है। अज्ञातवास वास के दौरान पांडवों ने यहां कुछ समय बिताया था। कस्बे में प्राचीन शन्नो देवी मंदिर भी है जिसका ऐतिहासिक व धार्मिक महत्व है। लोग इसे महाभारत कालीन मानते हैं। कस्बे में गौरी शंकर बाबा का स्थान है। जहां हजारों की संख्या में लोग उनके दर्शन को आते हैं।

राजनीतिक एवं सामाजिक दृष्टिकोण से अगर देखा जाए तो सीतापुर जिले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखाओं की शुरुआत भी इसी हरगांव कस्बे से हुई थी। कस्बे के निवासी रामदुलारे मिश्र संघ प्रथम जिला संघचालक बने। बाद में संघ से प्रभावित होकर रामदुलारे मिश्र के पुत्र जनार्दन प्रसाद मिश्र ने राजनीति के क्षेत्र में कदम रखा। सीतापुर से वह दो बार सांसद बने।पूर्व में संघ कार्य को विस्तार देने के लिए पंडित दीन दयाल उपाध्याय, माधव सदाशिव गोलवलकर उपाख्य गुरुजी और प्रचारक के तौर पर अटल बिहारी वाजपेयी का भी आगमन हरगांव कस्बे में हो चुका है। पूर्व सांसद जनार्दन मिश्रा के पिता रामदुलारे मिश्र के प्रयासों से ही सीतापुर जिले में संघ की शाखाएं शुरू हुईं थीं।

Tags: sitapur

About The Author

Related Posts

Latest News

 मुठभेड़ में सेना के एक अधिकारी समेत पांच जवान घायल   मुठभेड़ में सेना के एक अधिकारी समेत पांच जवान घायल 
जम्मू: डोडा जिले के एक जंगली क्षेत्र में सोमवार रात आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस...
करणी सेना ने अपने जिला अध्यक्ष युवा शक्ति का धूमधाम से बनाया जन्मदिन
मुंबई एक्सप्रेस हाईवे के पास बस-ट्रैक्टर की टक्कर, पांच की मौत
सेना और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़, एक अधिकारी समेत चार जवान शहीद
उड़ान के 90 मिनट बाद एनाउंसमेंट-माफ कीजिए कुछ दिक्कत आ रही है, यात्रियों में हड़कंप
 खराब लाइफस्टाइल से ओवेरियन सिंड्रोम की समस्या
बिहार में 18 नहीं 17 जुलाई को छुट्टी