राम मंदिर शिलान्यास के दिन काले कपड़े क्यों?

नई दिल्ली: आखिर कांग्रेस ने प्रदर्शन के लिए आज का ही दिन क्यों चुना? उन्होंने कहा कि आखिर प्रदर्शन के लिए काले कपड़े क्यों पहने गए? उन्होंने कहा कि पिछले साल आज के ही दिन प्रधानमंत्री मोदी ने अयोध्या में श्रीरामजन्म भूमि पर मंदिर  का शिलान्यास किया था। आज के दिन तो जश्न मनाया जाना चाहिए था, लेकिन कांग्रेस ने तुष्टिकरण की राह पर चलते हुए आज के दिन विरोध प्रदर्शन किया।

अमित शाह ने कांग्रेस द्वारा आज के दिन काले कपड़ों में प्रदर्शन पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि अभी तक तो रोज सामान्य कपड़ों में प्रदर्शन किया जा रहा था। आज आखिर काले कपड़ों में प्रदर्शन क्यों किया गया? उन्होंने कहा कि कांग्रेस सबसे लंबे समय तक सत्ता में रही, लेकिन उसने राम मंदिर का विवाद नहीं सुलझाया। वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने 500 साल पुराने इस विवाद का पटाक्षेप करते हुए आज के ही दिन अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास किया था।

तुष्टिकरण की नीति न देश के लिए अच्छी न कांग्रेस के लिए
अमित शाह ने कहा कि इतनी जगह शिकस्त खाने के बाद भी तुष्टिकरण नहीं छोड़ रही है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि इस प्रदर्शन के जरिए कांग्रेस ने सीक्रेट रूप से अपना तुष्टिकरण का एजेंडा आगे बढ़ाया है। केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि मैं बता देना चाहता हूं कि तुष्टिकरण की नीति न देश के लिए अच्छी न कांग्रेस के लिए अच्छी।

See also  हज हाउस जमीन का आवंटन रद्द किया जाए-आदेश गुप्ता