इस बार भी नहीं बनेगा दुर्गा पूजा में पंडाल, नहीं बजेगा लाउडस्पीकर

सीतामढ़ी। इस बार भी दुर्गा पूजा का भव्य आयोजन नहीं होगा। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सार्वजनिक स्थलों पर न तो पंडाल बनेगा और न ही लाउडस्पीकर बजाने की अनुमति होगी। विसर्जन जुलूस भी नहीं निकाला जाएगा। अपने-अपने घरों पर पूजा-अर्चना की जाएगी। मगर मूर्ति विसर्जन करना होगा तो उसके लिए भी निर्धारित स्थल पर ही हो सकेगा। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए दशहरा, दीपावली एवं छठ पर्व को ले विभिन्न पूजा समितियों के साथ सोमवार शाम नगर थाने पर पुलिस व प्रशासन की बैठक हुई।

एसडीओ राकेश कुमार, एसडीपीओ रमाकांत उपाध्याय, नगर थानाध्यक्ष विकास कुमार राय भी इसमें मौजूद थे। पूजा समिति के सदस्यों में प्रभू यादव, मिथिलेश कुमार, दिलीप सर्राफ, रकटू प्रसाद, संजय कुमार शर्मा, मनोज कुमार, जितेंद्र कुमार, सुबोध कुमार सिंह, किशोर प्रसाद, मनोज कुमार, जितेंद्र प्रसाद, रवि कुमार, प्रमोद दास, राजू दास, ध्रुव कुमार, हरदेव राय, बच्चा राय आदि शामिल थे। पदाधिकारियों ने अपील करते हुए कहा कि पर्व के दौरान कोई भी ऐसा कार्य नहीं करें, जिससे कोरोना का संक्रमण फैलने की संभावना हो।

यथासंभव प्रयास करें कि दुर्गा पूजा का आयोजन अपने घरों में ही करें। मंदिरों में भी पूजा स्थल व मंडप का निर्माण किसी विशेष थीम पर नहीं किया जाएगा। कोई तोरण व स्वागत द्वार नहीं बनाया जाएगा। न तो किसी प्रकार के मेले का आयोजन होगा और न ही सार्वजनिक उदघोषणा प्रणाली का उपयोग किया जाएगा। दुर्गा पूजा के अवसर पर कसी भी सार्वजनिक स्थल, होटल, क्लब आदि में गरबा, डांडिया, रामलीला आदि का आयोजन नहीं किया जाएगा।

See also  एक जुलाई से सिगल यूज प्लास्टिक बैन