Stock Market : आज भी जारी रहेगा गिरावट का दौर

मुंबई। भारतीय शेयर बाजार में गुरुवार को लगातार 7वें कारोबारी दिन गिरावट का जारी रहा. इस दौरान शेयर बाजार दो महीने के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया. 29 सिंतबर को बीएसई सेंसेक्स 188 अंक गिरकर 56,410 पर, जबकि निफ्टी 50.40 अंक गिरकर 16,818 पर आ गया है। पिछले सात दिन में सेंसेक्स 4.58 फीसदी और निफ्टी 4.90 फीसदी नीचे आ गया है। संभावना है कि आज ग्लोबल दबाव के चलते आज 8वें दिन भी बिकवाली का महौल रहेगा और ग्लोबल मार्केट में आ रही गिरावट का असर घरेलू निवेशकों के सेंटीमेंट पर भी दिखेगा।

महंगाई दर अब भी आरबीआई के टारगेट से ऊपर है। ऐसे में ज्यादातर एक्सपर्ट का मानना है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया महंगाई पर लगाम लगाने के लिए जल्द ही रेपो रेट 0.35 से 0.50 फीसद का इजाफा कर सकता है। RBI के मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी की शुक्रवार को जरूरी बैठक होनी है। ऐसे में निवेश कोई दांव लगाने से पहले इस बैठक के नतीजे का इंतजार करते हुए देखे गए।

अमेरिका बाजारों का हाल
अमेरिका के सभी प्रमुख शेयर बाजार एक दिन बढ़त बनाने के बाद महंगाई और मंदी की आशंकाओं की वजह से आज फिर गिरावट के साथ बंद हुए हैं। आज S&P 500 2.11 प्रतिशत की गिरावट के साथ 3,640.47 अंक पर आ गया है. यह अपने 6 महीने के सबसे निचले स्तर पर आ गया है। इधर, आज NASDAQ 314.13 अंक लुकड़कर 10,737.51 पर पहुंच गया है।

यूरोपीय बाजारों का भी बुरा हाल
यूरोप के भी सभी प्रमुख शेयर बाजारों ने आज निवेशकों को नुकसान कराया है। एक दिन बढ़त बनाने के बाद आज सभी बाजार लाल रंग में ट्रेड कर रहे हैं। यूरोप के प्रमुख शेयर बाजार में शामिल जर्मनी का स्‍टॉक एक्‍सचेंज सुबह 7:30 बजे तक 1.71 फीसदी की गिरावट के साथ, फ्रांस का शेयर बाजार 1.53% फीसदी गिरावट के साथ और लंदन का स्‍टॉक एक्‍सचेंज -1.77 फीसदी गिरावट के साथ ट्रेड कर रहे थे।

See also  अक्‍टूबर में 11 दिन बंद रहेंगे बैंक , अभी से कर लें पूरी तैयारी

एशियाई बाजारों का क्या है हाल?
एशिया के ज्यादातर शेयर बाजार आज गिरावट के साथ खुले हैं और लाला निशान पर ट्रेडि कर रहे हैं। सिंगापुर स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर आज सुबह -0.23 फीसदी गिरावट के साथ, जापान का निक्केई 1.46 फीसदी गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। ताइवान का शेयर बाजार भी -1.50 फीसदी गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। इसके अलावा दक्षिण कोरिया के कॉस्पी में 0.09 फीसदी की गिरावट दिख रही है।