(bankmitra)

बैंकमित्र (bankmitra) को गोली मारकर बदमाशों ने लुटे लाखो

सीतापुर । सीतापुर में पुलिस पिकेट से 1 किलोमीटर की दूरी पर बाइक सवार शस्त्र बदमाशों द्वारा बैंकमित्र (bankmitra) से लूटपाट का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां बाइक सवार शस्त्र बदमाशों ने बैंक मित्र को गोली मारकर रुपयों से भरा बैग लूट लिया।

पेट मे गोली लगने से बैंक मित्र को गंभीर हालत में प्राथमिक उपचार के बाद लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया था,जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गयी। ​​​​​बैंकमित्र से साथ मौजूद भाई ने लूट में लगे रुपयों का अनुमान तकरीबन ढाई लाख बताया है लेकिन पुलिस को अभी तक तहरीर नही मिली है।

पुलिस मामले की गहनता से जांच पड़ताल कर रही है। घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल व्यक्ति को इलाज के लिए सीएचसी में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उसकी हालत गंभीर देखते हुए उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया।

जानकारी के मुताबिक कुछ घंटे तक चले उपचार के दौरान बैकमित्र ने दम तोड़ दिया। एएसपी दक्षिणी नरेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि घायल बैंकमित्र और उसका भाई दोनों साथ लखनऊ गए है इसलिए अभी तक तहरीर प्राप्त नही हो सकी है लेकिन पुलिस की कई टीमों को लगाकर घटना के अनावरण का जल्द से जल्द प्रयास किया जा रहा हैं।

पुलिस का कहना है घायल का ऑपरेशन होने के बाद वह कुछ बताने की हालत होगा तो उसके बयान दर्ज कर लूटे गए रुपयों की जानकारी हो सकेगी। एसपी ने घटनास्थल का मौका मुआयना कर सख्त कार्यवाई के आदेश दिए है। बैंकमित्र की मौत के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है। घटना रामपुरकलां थाना क्षेत्र के अमझला इलाके की है। यहां बिसवां कस्बे के ग्राम बह्मपुरवा निवासी अरुण पुत्र महेश बैंक ऑफ इंडिया के बैंक मित्र है।

See also  झोलाछाप डॉक्टर की लापरवाही से मरीज की मौत

मिली जानकारी के मुताबिक, बैंकमित्र ग्राहकों का पैसा लेकर आज सुबह तकरीबन 10 बजे वह अपने भाई पंकज के साथ बाइक से बैंक जा रहे थे। इसी दौरान बीच रास्ते मे ही दो बाइक सवार तीन बदमाशों ने असलहे के बल पर उनका रास्ता रोका लिया और रुपयों से भरे बैग की डिमांड की लेकिन जब अरुण ने इससे असमर्थता जतायी तो बदमाशों ने बैंग छीनने के पहले से उसके पेट मे गोली मार दी और फिर बैंग छीनकर फरार हो गए।