दंगे, कर्फ्यू, गुंडागर्दी और भ्रष्टाचार कांग्रेस पार्टी के…

गुजरात: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भी चुनावी सभाओं को संबोधित किया जबकि गृह मंत्री अमित शाह भी गुजरात में लगातार मौजूद है। भाजपा ने गुजरात में यूनिफॉर्म सिविल कोड को एक बड़ा मुद्दा बनाया है। आज भी गृह मंत्री अमित शाह ने साफ तौर पर कहा है कि भाजपा यूनिफॉर्म सिविल कोड लागू करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। आज गुजरात में चुनाव प्रचार के दौरान क्या-क्या हुआ है, यह हम आपको बताते हैं।

मुफ्त में बिजली पाने की बजाय इससे आय अर्जित करने का समय: मोदी

गुजरात में मुफ्त बिजली देने के कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बादे के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि अब समय मुफ्त में बिजली पाने का नहीं बल्कि इससे आय करने का है। उत्तर गुजरात के अरवल्ली जिला स्थित मोडासा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि उन्हें वह कला पता है कि कैसे लोग बिजली से पैसे कमा सकते हैं। इस दौरान, प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और कहा कि वह ‘‘बांटों और शासन करो’’ के फार्मूले पर काम करती है और उसका सत्ता में बने रहने पर ही ध्यान लगा रहता है। आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल चुनाव अभियान के दौरान मतदाताओं को मुफ्त बिजली देने के पार्टी के वादे से लुभा रहे हैं। पार्टी ने वादा किया है कि यदि वह सत्ता में आती है दिल्ली और पंजाब की तरह गुजरात के लोगों को भी प्रति महीने 300 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाएगी। इसके साथ ही मोदी ने कहा कि गुजरात का आगामी विधानसभा चुनाव ना तो विधायक और ना ही सरकार चुनने को लेकर है बल्कि यह अगले 25 सालों के लिए राज्य की किस्मत तय करने को लेकर है।

See also  देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बने बिपिन रावत, तीनों सेनाओं को करेंगे लीड

प्रधानमंत्री को भाजपा के कुशासन के बारे में बोलना चाहिए: खड़गे

गुजरात में विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कांग्रेस की आलोचना किये जाने को लेकर विपक्षी दल के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बृहस्पतिवार को उन पर पलटवार करते हुए कहा कि उसे (कांग्रेस को) कोसने के बजाय प्रधानमंत्री को राज्य में भाजपा के ‘‘कुशासन’’ के बारे में बोलना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति चुनाव में आदिवासी समुदाय की महिला द्रौपदी मुर्मू का समर्थन नहीं करने को लेकर बुधवार को कांग्रेस को घेरने की कोशिश की थी। उन्होंने विपक्षी दल पर गुजरात में उसके शासन के दौरान वोट बैंक की राजनीति, भाई-भतीजावाद, संप्रदायवाद और ‘‘असामाजिक तत्वों’’ का समर्थन करने का आरोप लगाया था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि दंगे, कर्फ्यू, गुंडागर्दी और भ्रष्टाचार कांग्रेस पार्टी के “जीन” में है। गुजरात के कच्छ जिले के रापड़ में भाजपा के उम्मीदवार के पक्ष में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि कांग्रेस अयोध्या में कभी राम मंदिर नहीं बनवा सकती थी। आदित्यनाथ ने कहा, “दंगे, कर्फ्यू, गुंडागर्दी और भ्रष्टाचार कांग्रेस की पहचान है।