ओप्पो रेनो 8 सीरीज़ टिकाऊ होने के साथ लंबा चलने का वादा प्रस्तुत

साल 2015 में बड़ी संख्या में ग्राहक हर छः महीने में अपना हैंडसेट अपग्रेड किया करते थे। 2016-17 में वो 9 से 12 महीने में ऐसा करने लगे और साल 2020 में यह अवधि बढ़कर दो साल हो गई। आज उद्योग का अध्ययन करने वालों का अनुमान है कि यूज़र्स लगभग ढाई सालों तक अपनी डिवाईस का इस्तेमाल करते हैं। ग्राहकों के व्यवहार में होने वाले इस परिवर्तन को देखते हुए ओप्पो ने ऐसी टिकाऊ डिवाईस बनाने के लिए अपने आरएंडडी प्रयासों को बल दिया, जो लंबे समय तक चल सकें।

लंबी चलने वाली, सुरक्षित और तेजी से चार्ज होने वाली बैटरी
स्मार्टफोन की उम्र बढ़ाने में बैटरी की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। ओप्पो के पास सुपरवूक फ्लैश चार्ज टेक्नॉलॉजी है और अब यह अपने प्रोप्रायटरी बैटरी हैल्थ इंजन (बीएचई) के साथ अपनी सीमाओं का विस्तार कर रहा है। बीएचई चिप में बेहतर सुरक्षा और परफॉर्मेंस के लिए स्मार्ट बैटरी हैल्थ एलगोरिद्म और बैटरी हीलिंग टेक्नॉलॉजी है। यह एलगोरिद्म बैटरी की आयु बढ़ाने के लिए अधिकतम चार्जिंग करेंट को डायनैमिक रूप से समायोजित व नियंत्रित करती है, और चार्जिंग की तीव्र परफॉर्मेंस प्रदान करती है। दूसरी तरफ बैटरी के सामान्य चार्जिंग और डिसचार्जिंग के चक्र में ओप्पो की बैटरी हीलिंग टेक्नॉलॉजी इलेक्ट्रोड्स को निरंतर रिपेयर कर बैटरी लाईफ बढ़ाती है। रेनो8 सीरीज़ में इन टेक्नॉलॉजीज़ के साथ, ओप्पो ने बैटरी चार्ज साईकल को 1,600 तक बढ़ा दिया है, जो उद्योग में प्रचलित 800 चार्ज साईकल के औसत का दोगुना है। ओप्पो की बैटरी अब चार सालों तक अपनी ओरिज़नल क्षमता के 80 प्रतिशत तक बनी रहती है और सुरक्षा के वही उच्च स्तर प्रदान करती है, इसलिए यह बाजार में सबसे ज्यादा बड़ा स्मार्टफोन बैटरी लाईफस्पैन प्रदान करती है।

See also  Huawei लॉन्च कर सकती है पहला फोल्डेबल स्मार्टफोन

सालों तक सुगम परफॉर्मेंस
अपने ड्यूरेबिलिटी के वादे के तहत, ओप्पो ने अपने सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर को ऑप्टिमाईज़ किया है, ताकि सुनिश्चित हो सके कि इसके नए लॉन्च किए गए रेनो 8 सीरीज़ के हेडसेट नए होने पर और 36 महीनों तक लगातार इस्तेमाल होने के बाद भी सुगमता से चलें।
डिवाईस की परफॉर्मेंस को मापने और प्रमाणीकृत करने तथा स्मार्टफोन की फ्लुएंसी परफॉर्मेंस के आकलन के लिए ओप्पो ने टीयूवी एसयूडी के साथ गठबंधन किया है।

लगभग 500 टेस्ट पूरे होने के बाद रेनो 8 सीरीज़ के स्मार्टफोन टीयूवी एसयूडी द्वारा स्थापित मानकों में सर्टिफिकेशन की जरूरत के अनुरूप पाए गए और उन्हें 36 माह का फ्लुएंसी रेटिंग ए मार्क प्रदान किया गया। सर्टिफिकेशन में ई से लेकर ए तक पाँच रेटिंग शामिल होती हैं, जिनमें ए सर्वोच्च स्तर की रेटिंग है।
यह थर्ड पार्टी सर्टिफिकेशन ऐसी डिवाईस बनाने की ओप्पो की प्रतिबद्धता का प्रमाण है, जो न केवल लंबी चलें, बल्कि लंबे समय तक सुगमता से परफॉर्म भी करें।

लंबे समय तक सुगम इस्तेमाल के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम की सपोर्ट
यूज़र्स को सबसे नए फीचर प्रदान करने के लिए ओप्पो अपनी रेनो 8 सीरीज़ में दो ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट्स का वादा करता है। रेनो 8 प्रो के लिए नए एंड्रॉयड 13 पर आधारित कलर ऑपरेटिंग सिस्टम 13 का पहला अपडेट सितंबर में आएगा, जबकि रेनो 8 स्मार्टफोन को यह अपडेट अक्टूबर में मिलेगा।

ओप्पो का नया कलर ऑपरेटिंग सिस्टम 13 हाईब्रिड लाईफस्टाईल के लिए बनाया गया है, जिसमें बैकग्राउंड में 18 लाईव ऐप्स चलाने की सपोर्ट है। यह अनेक नए फीचर्स जैसे मल्टीस्क्रीन कनेक्ट, मीटिंग असिस्टैंट, और ऑलवेज़-ऑन डिस्प्ले के साथ आता है।
रेनो8 के दोनों स्मार्टफोंस को 2023 में फिर से संपूर्ण ऑपरेटिंग सिस्टम ओवरहॉल मिलेगा; इसका मतलब है कि ये हेडसेट 2024 की दूसरी तिमाही में सबसे आधुनिक ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करने लगेंगे।

See also  गलती से हो गई ऐसी खोज, कि टूटी स्क्रीन अपने आप जुड़ जाएगी

एक्सटेंडेड सिक्योरिटी अपडेट्स द्वारा सुरक्षित स्मार्टफोन में बैंक खाते की जानकारी, मुख्य सरकारी आईडी, और नंबर तथा व्यक्तिगत डेटा जैसी संवेदनशील जानकारियां सुरक्षित होती हैं। रेनो8 सीरीज़ को यूज़र की इन्फॉर्मेशन को विभिन्न मैलवेयर, वायरस, और अटैक्स से सुरक्षा देने के लिए चार सालों तक सिक्योरिटी अपडेट मिलेंगे, ताकि उनकी संवेदनशील जानकारी में

सेंध न लगाई जा सके।
नए ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट के साथ रेनो 8 सीरीज़ की डिवाईसेज़ को एन्ड्रॉयड 13 के नए सिक्योरिटी फीचर ऑटोमैटिक रूप से मिल जाएंगे। ज्यादा गोपनीयता के लिए इसका सिस्टम फ्रंट कैमरा के सामने डिवाईस के मालिक के अलावा किसी और के आने पर नोटिफिकेशन के कंटेंट को हाईड कर देता है।

इसका ऑपरेटिंग सिस्टम एडवांस्ड प्राईवेसी और सुरक्षा के लिए आईएसओ, ई-प्राईवेसी, और ट्रस्टआर्क द्वारा सर्टिफाईड है। उदाहरण के लिए, यूज़र्स हाल ही में की गई ऐप गतिविधि को सुरक्षित कर सकते हैं, या डिवाईस को टर्न ऑफ करते वक्त पासवर्ड स्थापित कर सकते हैं।

कठोर लैब टेस्ट्स के साथ टिकाउपन
साथ्ज्ञ ही, ओप्पो की रेनो 8 डिवाईस पर इसकी क्यूई रिलायबिलिटी लैब में गहन लैब टेस्ट किए गए हैं। इन स्मार्टफोंस को 300 से ज्यादा कठोर परीक्षणों से गुजारा गया है, जिनमें ड्रॉप टेस्ट शामिल है, जो 28,000 बार माईक्रो ड्रॉप टेस्ट को साईमुलेट करता है (आम तौर से उद्योग में 5,000-10,000 बार का टेस्ट किया जाता है)। दूसरा टेस्ट एक्सीडेंटल ड्रॉप टेस्ट है, जिसमें 1.5 मीटर तक विभिन्न ऊँचाईयों से फ्री-फॉल की जाँच की जाती है, जो उद्योग में मानक 0.8 मीटर के टेस्ट से 80 प्रतिशत ज्यादा है। ये क्रियाएं फोन को इसकी सभी छः सतहों, आठ कोनों और 12 किनारों पर गिराकर 12 से 24 बार की जाती हैं।

See also  WhatsApp पर 5 से अधिक बार Forward नहीं कर पाएंगे एक मैसेज

ड्रॉप टेस्ट की तरह ही ओप्पो ने ओप्पो रेनो 8 सीरीज़ की दोनों डिवाईस का 10±0.5 L/min की ‘‘भारी बारिश’’ के लिए भी परीक्षण किया है। इस टेस्ट में फोन की चारों सतहों पर 75 डिग्री के कोण से पानी की बौछार की जाती है। फोन पर वीडियो चलाते हुए या वॉईस कॉल करते हुए भी इसी तरह से फोन को टेस्ट किया गया। हर टेस्ट के बाद, इस डिवाईस को पोंछा गया और फिर इसे खोलकर मुख्य पीसीबी या डिस्प्ले में जंग के किसी भी संकेत का परीक्षण किया गया।

इनके अलावा ओप्पो ने अपनी डिवाईस को माईनस 50 डिग्री सेल्सियस के अत्यधिक कम और 75 डिग्री सेल्सियस के अत्यधिक उच्च तापमान पर एक हफ्ते तक रखकर देखा, जो उद्योग में तीन दिनों के मानक के मुकाबले बहुत ज्यादा है। ये विस्तृत और कठिन टेस्ट सुनिश्चित करते हैं कि ओप्पो डिवाईसेज़ को सामान्य और अत्यधिक कठोर वातावरण में भी अपेक्षा के अनुरूप इस्तेमाल किया जा सकता है।

सर्विस प्रॉमिज़
ओप्पो का ग्राहकों के साथ दीर्घकालिक संबंध तभी से शुरू हो जाता है, जब वो ब्रांड-न्यू ओप्पो रेनो 8 के साथ स्टोर से बाहर निकलते हैं। यूज़र्स फेसबुक और ट्विटर @OPPOCareIN द्वारा प्रिफरेंशल प्लेटिनम आफ्टर-सेल्स सेवा के लिए अपना पंजीकरण करा सकते हैं। यह रजिस्ट्रेशन चार वर्किंग घंटों में पूरा हो जाता है, जिसके बाद ग्राहक प्लेटिनम केयर 9958 80 80 80 (24/7) पर संपर्क कर रेनो डिवाईस के लिए एक्सक्लुसिव सपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं। ग्राहकों को सर्वश्रेष्ठ आफ्टर-सेल्स सेवा प्रदान करने की अपनी प्रतिबद्धता के साथ ओप्पो रेनो डिवाईसेज़ के लिए डोर-स्टेप पिक-एंड-ड्रॉप सर्विस प्रदान करता है।