जमुई : जिला कृषि कार्यालय के सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में जिला कृषि पदाधिकारी अविनाश चंद्रा ने सख्त लहजे में खरीफ फसल चक्र में उर्वरक वितरण पर जीरो टालरेंस बरतने की हिदायत दी। कहा कि सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारी और कृषि समन्वयक इस नीति का शत-प्रतिशत पालन कराना सुनिश्चित कराएंगे। शिकायत मिलने पर संबंधित पदाधिकारी और कर्मी पर सीधी कार्रवाई की जाएगी। किसान और किसानी के प्रति लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

डीएओ ने बीज वितरण की समीक्षा के दौरान बीज उठाव में चकाई प्रखंड का कार्य असंतोषप्रद करार देते हुए गुरुवार तक शत-प्रतिशत बीज उठाव का निर्देश दिया। धान बिचड़ा आच्छादन की समीक्षा में पाया गया कि चकाई, गिद्धौर एवं झाझा में बिचड़ा आच्छादन शून्य है जबकि अन्य शेष प्रखंड में औसतन दो फीसद आच्छादन हुआ है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना की समीक्षा में सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारी और समन्वयकों को शनिवार तक सभी लंबित कार्य को निपटाने का निर्देश दिया।

बताया गया कि जिले में उर्वरक उपलब्ध है। गुरुवार तक पास मशीन में खुदरा विक्रेता के पास यूरिया 2175.820 मैट्रिक टन, डीएपी 400 एमटी, एमओपी 1.150 एमटी, एनपीके 72.90 एमटी, एसएसपी 25.625 एमटी तथा एपीएस 17 एमटी उपलब्ध है।