काराकाट सीओ का बिगड़ा सुर,डीएम के खिलाफ किया आपत्तिजनक टिप्पणी,वायरल आडियो बना चर्चा का विषय

काराकाट रोहतास। सूबे में सुशासन की सरकार है और देशी विदेशी शराब पर प्रतिबंध।सुशासन के मुखिया बढ़ते भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए नित दिन दम भर सुर्खियां बटोरते रहते हैं तथा बेलगाम नौकरशाहों पर लगाम लगाने कि भी बाते होती रहती है।लेकिन रोहतास में एक नौकरशाह की सुर संगम बिगड़ चुकी है।वह न केवल डीएम धर्मेंद्र कुमार को आपत्तिजनक शब्द का प्रयोग कर रहे है। बल्कि शराब की मांग करने के साथ अपने को एक दबंग अधिकारी भी बताने से नहीं हिचकते। जिले के विक्रमगंज अनुमंडल अंतर्गत काराकाट प्रखंड के सीओ अमरेंद्र कुमार का करीब छह ऑडियो इन दिनों सोशल मीडिया में तेजी से वायरल होने के साथ सुर्खियां बटोर रहा है ।
जिसमें वह जिलाधिकारी के लिए ‘आपत्तिजनक’ शब्द का उपयोग कर रहा है।वहीं एक जमीन के मामले में फरियादी से बातचीत के दौरान रोहतास के जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार के लिए आपत्तिजनक शब्द का उपयोग करते हुए फरियादी से शराब की मांग कर अपने निजी गांव पर आने का निमंत्रण उक्त व्यक्ति को दे रहा है तथा जमीन की घेराबंदी कराने समेत अमर्यादित भाषा का प्रयोग करते आदि सुनाई पड़ रहा है।हालांकि वायरल ऑडियो की पुष्टि अखबार नहीं करता है।दूसरी तरफ भानस ओपी थाना क्षेत्र के एनएच 30 पर पंडित पूरा के समीप से रामजी पांडेय उर्फ रामलाल बड़क बाबा उम्र करीब 35 वर्ष पिता स्वर्गीय कालिका पांडेय ग्राम: संसार डिहरी, थाना काराकाट को अवैध शराब के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।गिरफ्तार आरोपी का स्कोर्पियो को भी पुलिस ने जप्त कर लिया है।इस मामले में परिजनों ने सीओ पर साजिश के तहत पुलिस से मिलीभगत कर फसाने का आरोप लगा रहे है।
दावा किया कि वायरल आडियो में नशे में धुत्त होकर सीओ ने बगैर शराब (दावा) के गांव नहीं आने कि नसीहत दे रहे है तथा जेल भेजने, होटल बंद कराने आदि की धमकी भी दे रहे है एवं बातचीत का आडियो रिकॉर्ड कर शासन प्रशासन समेत मीडिया में प्रचारित करने कि बात भी कर रहे है।यह सिओ के सोची समझी साजिश है।जो अपने गुर्गो के जरिए इस तरह का हरकत कर फसाने का कार्य किया गया है।हालांकि यह वायरल आडियो जांच का विषय है और जांचोपरांत ही स्पष्ट हो पायेगा।लेकिन भ्रष्टाचार में लिप्त काराकाट के सिओ की करतूत को लेकर सोशल मीडिया से लेकर धरातल पर काफी परवान चढ़ते जा रहा है और जिलाधिकारी पर अभद्र टिप्पणी करने को ले लोगो मे आक्रोश देखने को मिल रहा है।इस मामले में आरोपित सिओ की प्रतिक्रिया जानने के लिए संपर्क साधा गया।लेकिन सम्पर्क नहीं होने कि वजह से उनका विचार नहीं जाना जा सका है।जबकि सिओ का लोगो के साथ बदसुलूकी करने का एक दो मामले नहीं है। एसे कई मामले है,जो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है तथा जितनी मुंह उतनी बातें हो रही है।फिलहाल जिलावासियों की नजरे अब रोहतास डीएम पर जा टिकीं है कि हौसला बुलंद दबंग सिओ के उपर क्या करवाई हो रहा है।
See also  किसान विजय दिवस के रूप में एनसीपी अध्यक्ष का मना जन्मदिवस