डाक कर्मचारी एवं अभिकर्ता संघ का राष्ट्रव्यापी एकदिवसीय हड़ताल

सासाराम/विक्रमगंज। केंद्रीय कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर डाक संयुक्त संघर्ष समिति की रोहतास जिला इकाई ने बुधवार को अपनी विभिन्न मांगों को लेकर जिला मुख्यालय स्थित प्रधान डाकघर के समक्ष एक दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आयोजन किया है। डाक कर्मचारी संघ के सचिव अखिलेश कुमार ने बताया कि केंद्र सरकार की कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ केंद्रीय कर्मचारी महासंघ के तत्वावधान में एक दिवसीय हड़ताल का आयोजन किया गया है। सरकार से हमारी मांग है कि सभी सरकारी संस्थाओं का निगमीकरण बंद कर पुरानी पेंशन योजना लागू करते हुए कर्मचारियों की नियमित बहाली करें। वहीं इस राष्ट्रव्यापी हड़ताल को अभिकर्ता संघ ने भी अपना भरपूर समर्थन दिया है। अभिकर्ता संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमरजीत कुमार श्रीवास्तव ने भी केंद्र सरकार के समक्ष सभी योजनाओं को अभिकर्ता के माध्यम से बिक्री कराने, कमीशन दिलाने सहित कई प्रमुख मांगे रखी। इस दौरान अभिकर्ता मीना कुमारी ने कहा कि हमेशा से देश के विकास में अभिकर्ताओं का सहयोग सराहनीय रहा है इसलिए सरकार अभिकर्ताओं के जायज मांगों पर विचार करते हुए उनका हक प्रदान करें। मौके पर जयशंकर सिंह, सुरेश प्रसाद, अयोध्या सिंह, राम आशीष सिंह, ललन दुबे, राखी चौबे, नागेंद्र शर्मा, सतीश कुमार, सुदामा सिंह, मार्कंडेय पांडे, हरिहर प्रसाद, विजय केसरी सहित अन्य उपस्थित रहे।
वहीं बिक्रमगंज उपडाकघर में पोस्टल ज्वाइंट कांऊसिल ऑफ एक्शन (पीजेसीए) नई दिल्ली के आह्वान पर अखिल भारतीय डाक कर्मचारी संघ, रोहतास के द्वारा हड़ताल किया गया। जिसमें डाकघर का सभी कार्यों का बहिष्कार करते हुए डाकघर को पूर्णतःबंद रखा गया। इस हड़ताल को राष्ट्रीय अल्प बचत अभिकर्ता संघ, रोहतास, जिला ईकाई बिक्रमगंज के द्वारा भी समर्थन प्रदान करते हुए सभी कार्यों का बहिष्कार किया गया। केन्द्र सरकार के कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ तथा डाकघर को निजीकरण / निगमीकरण करने की मंशा के खिलाफ ये हड़ताल एक दिन के लिए देश भर में आयोजित किया गया है।इस हड़ताल में बिक्रमगंज उपडाकघर में उपस्थित कर्मचारियों में अनिष कुमार, सुस्मित कुमार, सुनील कुमार, अशोक कुमार पासवान तथा अभिकर्ता संघ के तरफ से  दिवाकर कुमार द्विवेदी, अशफाक अहमद खाँ, मिथलेश कुमार, निवास चौधरी,मुकेश कुमार, लाल बाबू प्रसाद, निर्भय कुमार सिंह आदि उपस्थित होकर बंद को सफल बनाएं।.
See also  मनरेगा : कागज पर छील दी घास, तैयार कर दिया डांड़