(Hindu Kadki)
(Hindu Kadki)

हिन्दू कड़की(Hindu Kadki)का अपहरण व जबरन निकाह

फतेहपुर. यूपी के फ़तेहपुर जिले में एक और धर्मांतरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आठ माह पहले अगवा हुई हिंदू लड़की (Hindu Kadki) का धर्मांतरण करने के बाद उसका जबरन निकाह किया जा रहा था. मामले की भनक लगते ही लड़की की मां मौके पर पहुंच गई, जब लड़की की मां ने जबरन निकाह का विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई. इतना ही नहीं बेखौफ आरोपियों ने उसके कपड़े तक फाड़ दिए. वहीं सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी मौलवी समेत दो को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस ने इस मामले में लड़की की मां की तहरीर पर मौलवी कल्लू समेत 10 लोगो के खिलाफ अपहरण, धर्मांतरण, मारपीट, छेड़खानी, जान से मारने की धमकी और बलवा की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है. घटना असोथर थाना क्षेत्र के सातोपीत गांव की है. बता दें, कोतवाली थाना क्षेत्र के हरिहरगंज की रहने वाली मानसी गुप्ता 8 मई 2022 को संदिग्ध हालत में लापता हो गई थी. इस मामले में मां अंजुला गुप्ता ने कोतवाली में बेटी की गुमशुदी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी.

निकाह का विरोध करने पर दी जान से मारने की धमकी

जानकारी के अनुसार 8 दिसंबर को लड़की की मां को पता चला कि असोथर थाना क्षेत्र के सातो गांव में उसकी बेटी का जबरन धर्मांतरण कराकर आरोपी अंसार अहमद निकाह कर रहा है, जिसके बाद लड़की की मां सातो गांव पहुंची. उसने वहां देखा कि मौलवी निकाह पढ़ा रहा था. जब उसने निकाह का विरोध किया तो आरोपियों ने उसके साथ जमकर मारपीट की और उसके कपड़े फाड़ कर जान से मारने की धमकी देते हुए भगा दिया. पीड़ित महिला ने मामले की सूचना पुलिस को दी. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मौलवी समेत दो को गिरफ्तार कर लिया.

See also  भाजपा के पास जात पांत और संप्रदायवाद जैसे वही पुराने टोने-टोटके हैं—सपा

असोथर पुलिस ने इस मामले में पीड़िता की मां की तहरीर पर आरोपी अंसार अहमद, उसकी मां सहरुन निशा, भाई नौशाद अली, दिलशाद अली, भाभी सोनी बनो, यासमीन, बहन तहरुन निशा और मौलवी कल्लू के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस ने इन सभी के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 323, 504, 506, 366, 354 व उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 2021 की धारा 3, 5 (1) के तहत केस दर्ज कर मुख्य आरोपी अंसार अहमद और मौलवी कल्लू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. जबकि मामले में अभी भी 8 आरोपी फरार है.

विज्ञापन

लड़की को बहला फुसलाकर अगवा

सीओ थरियांव दिनेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि असोथर थाना क्षेत्र में लड़की को बहला फुसलाकर अगवा करने और जबरन धर्मांतरण के बाद निकाह की कोशिश का मामला सामने आया है. इस मामले में पीड़िता की मां की तहरीर पर केस दर्ज कर मुख्य आरोपी अंसार अहमद और मौलवी कल्लू को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है. आगे की आवश्यक कार्रवाई की जा रही है. बता दें, धर्मांतरण का यह कोई पहला मामला नहीं है. बीते 10 माह में 15 से ज्यादा धर्मांतरण के मामले सामने आ चुके है, जो पुलिस के लिए खासा सिरदर्द बना हुआ है.

हिंदूवादी संगठनों ने भी जताया कड़ा ऐतराज

धर्मांतरण के इस मामले में हिंदूवादी संगठनों ने भी कड़ा ऐतराज जताया है. वीएचपी के प्रांतीय महामंत्री वीरेंद्र पांडेय ने बताया कल असोथर थाना क्षेत्र के सातो सीत गांव में हिंदू लड़की का जबरन धर्मांतरण कर निकाह करने की सूचना मिली थी, जिस पर हमारे कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे. पुलिस इस मामले में केस दर्ज कर मुख्य आरोपी और मौलवी को गिरफ्तार कर जेल भेज रही है. मेरा इतना ही कहना है कि ये जिले में क्या हो रहा है. मुस्लिम समाज के लोग धार्मिक उन्माद फैलाना चाह रहे है. हिन्दू समाज की बेटी को अगवाकर जबरन धर्मांतरण किया और फिर उससे निकाह कर रहे थे. मैं इतना ही कहना चाहूंगा कि ये सुधर जाए नहीं तो विश्व हिंदू परिषद इन्हें मुहतोड़ जवाब देगी.