कृषकों की आय बढ़ाने हेतु तत्पर सरकार संकल्पित नरेंद्र सिंह, कृषि गोष्ठी में जिले के 70 किसानों ने ली हिस्सा

बिक्रमगंज, रोहतास। कृषि विज्ञान केंद्र रोहतास नके गुरुवार को खाद्य एवं पोषण किसानों हेतु विषय पर कृषक गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस गोष्ठी कार्यक्रम में जिले के विभिन्न प्रखंडों से लगभग 70 कृषकों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम में कृषि मंत्री भारत सरकार नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा किसानों को संबोधित करते हुए कहा गया कि सरकार कृषकों की आय बढ़ाने हेतु तत्पर है। उनके खाद्य सुरक्षा एवं पोषण सुरक्षा हेतु कई कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा उनको उचित सलाह मुहैया कराई जा रही है।

कृषकों को ज्यादा से ज्यादा जैविक खादों के इस्तेमाल हेतु सलाह दी।यह कार्यक्रम पूरे भारत के सभी कृषि विज्ञान केंद्रों में संपन्न कराया गया है।कार्यक्रम में उपस्थित प्रभारी वरीय वैज्ञानिक एवं प्रधान ने कृषकों को संबोधित करते हुए कहा की किचन वाटिका अपने घर के आस-पास जरूर लगाएं। यह पोषण संबंधी जरूरतों को सालों भर पूरा कर सकता है। छोटे-छोटे तालाब और मुर्गी पालन घर के आस-पास करके प्रोटीन संबंधी जरूरतों को पूरा किया जा सकता है। डॉ रतन कुमार उद्यान वैज्ञानिक ने उपस्थित कृषकों को विस्तार पूर्वक मशरूम उत्पादन तकनीक के बारे में बताया। मशरूम उच्च प्रोटीन से भरा खाद्य पदार्थ है जिसको उगाने में किसी जमीन की जरूरत नहीं पड़ती है।

नए पदस्थापित मृदा वैज्ञानिक डॉक्टर रामाकांत सिंह ने जैविक खेती एवं वर्मी कंपोस्ट उत्पादन के बारे में कृषकों को बताया और उन्होंने सलाह दी कि अपने खेतों में जैविक और वर्मी खादों का निश्चित रूप से व्यवहार करें। जैविक खादों के इस्तेमाल से कई खतरनाक बीमारियों से बचा जा सकता है। कृषकों में अर्जुन सिंह, संझौली, शशि कुमार सिंह, मसौना, राजेंद्र कुमार पासवान, तिलई, गौतम प्रसाद सिंह, अलीगंज, शैलेंद्र कुमार, हुकाडीह, चंदन कुमार, परसा, अरविंद पांडे, परसा, राज मंगल पांडे, परसा, विद्याधर सिंह, मसौना इत्यादि सहित 70 कृषकों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम के दौरान एचपी शर्मा, अभिषेक कौशल, सुभाष कुमार, प्रवीण कुमार इत्यादि उपस्थित थे।

See also  43 अनुसूचित जन जाती के भूमिहीनों में बांटा गया बंदोबस्त पर्चा