(Corruption)

ग्राम प्रधान समेत चार लोगों पर भ्रष्टाचार का आरोप

महराजगंज । महराजगंज (Corruption) में भ्रष्टाचार (Corruption) का एक और मामला सामने आया है। जहां ग्राम पंचायत परसिया के ग्राम प्रधान, ग्राम विकास अधिकारी, तकनीकी सहायक और रोजगार सेवक के विरुद्ध भ्रष्टाचार और सरकारी धन के दुरुपयोग के मामले में एफआईआर दर्ज करायी गयी है। डीएम से ग्राम पंचायत परसिया के पूर्व प्रधान द्वारा मनरेगा के तहत कराये गए कार्यों में भ्रष्टाचार की शिकायत की गयी थी। जांच की आख्या मिलने के बाद जिलाधिकारी द्वारा डीसी मनरेगा को तत्काल मामले में गंभीर कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए गए।

डीएम सत्येन्द्र कुमार ने कहा कि जनपद में सरकारी योजनाओं व निर्माणकार्यों में भ्रष्टाचार कतई सहन नहीं किया जाएगा। भ्रष्टाचार के विरुद्ध ‘जीरो टॉलरेंस’ रखते हुए दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। मनरेगा के कार्य में गांव के 19 मजदूर लगाए गए थे। लेकिन सिर्फ कार्य को कागजों में किया गया और बिना कार्य कराए धन निकाल कर बंदरबांट कर लिया गया। इसी के साथ साथ अन्य विकास कार्यों में भी लापरवाही बरती गई। जिसको लेकर यह कार्रवाई की गई है।

जांच टीम ने पाया कि ग्राम पंचायत में किये गए तीन कार्यों में मानकों के विपरीत भुगतान किया गया। टीम ने बताया कि ग्राम पंचायत में पोखरी खुदाई के कार्य में सिर्फ जीर्णोद्धार करने के बावजूद खुदाई कार्य के मद में ₹ 119280 का भुगतान किया गया। इसी प्रकार आरसीसी सड़क के निर्माण में शिकायत के बाद कार्य आरंभ किये जाने की बात बतायी गयी, जबकि नाला की सफाई के बिना भुगतान की बात सामने आयी।

See also  थाना हाईवे क्षेत्र में शव मिलने से सनसनी