टाटा ग्रुप के इस शेयर पर फिदा हुए विदेशी निवेशक

नई दिल्ली। कंपनी के शेयर आज बुधवार को 13% से ज्यादा चढ़ गए। BSE पर टाटा केमिकल के शेयर 13.5% की तेजी के साथ 1078.95 रुपये तक पहुंच गए। स्टॉक ने ₹1,086.55 के हाई स्तर को छुआ है, जो कि इसके 52-वीक हाई से महज 6.5% ही कम है। दरअसल, कंपनी के शेयरों में यह तेजी जून तिमाही नतीजों के बाद देखी जा रही है। आपको बता दें कि टाटा ग्रुप की इस कंपनी के नेट प्राॅफिट में जून 2022 को समाप्त तिमाही में 86.25 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। वहीं, टाटा केमिकल्स में विदेशी निवेशकों और म्यूचुअल फंड्स की भी दिचलस्पी भी बढ़ी है। जून तिमाही में इन्होंने कंपनी में अपना स्टेक बढ़ाया है।

कंपनी ने जारी किए नतीजें
आपको बता दें कि टाटा केमिकल्स का नेट प्राॅफिट जून में समाप्त चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 86.25 प्रतिशत बढ़कर 637 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कंपनी ने मंगलवार को शेयर बाजारों को भेजी एक सूचना में यह जानकारी दी थी। टाटा केमिकल्स ने पिछले वित्त वर्ष (2021-22) की इसी तिमाही में 342 करोड़ रुपये शुद्ध लाभ कमाया था। कंपनी की परिचालन आय समीक्षाधीन तिमाही में 34.15 प्रतिशत बढ़कर 3,995 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 2,978 करोड़ रुपये थी।

FII ने बढ़ाई हिस्सेदारी
जून तिमाही में एफआईआई ने कंपनी में हिस्सेदारी बढ़ाकर 14.99% कर दी। इससे पहले यह पिछली तिमाही में 13.62% था। वहीं, म्यूचुअल फंडों ने मिलकर हिस्सेदारी 7.36% से बढ़ाकर 7.58% कर दी।

कंपनी के शेयरों का हाल
लार्ज कैप स्टॉक एक साल में 25 फीसदी चढ़ा है और इस साल 16 फीसदी चढ़ा है। वहीं, पिछले एक महीने में यह शेयर 25.84% और लास्ट पांच ट्रेडिंग सेशंस में यह शेयर 12.23% चढ़ा है। फर्म का मार्केट कैप बढ़कर 26,270 करोड़ रुपये हो गया।

See also  मोदी सरकार ने लिया रेलवे में बड़े बदलाव का फैसला, 8 सर्विसेज का विलय होगा

कंपनी का कारोबार
टाटा केमिकल्स लिमिटेड, कांच, डिटर्जेंट, औद्योगिक और रासायनिक क्षेत्रों की कंपनी है। कंपनी की अपनी सहायक कंपनी रैलिस इंडिया लिमिटेड के जरिए फसल सुरक्षा व्यवसाय में एक मजबूत स्थिति है। टाटा केमिकल्स की पुणे और बैंगलोर में विश्व स्तरीय अनुसंधान एवं विकास सुविधाएं हैं।