जिलाधिकारी के आदेशों के बाद भी अधिकारी नहीं खोलते हैं समय से आफिस

प्रदीप सक्सेना
पीलीभीत तरूणमित्र। फरियादी गेट पर ताला पड़ा देखकर करते रहते हैं साहब के आने का इंतजार। फोटो 04- पूर्ति कार्यलय में लटका ताला।बीसलपुर:- डीएम के आदेश के बाद भी अधिकारी अपनी मनमानी के चलते आफिस नहीं खोल रहे हैं। तहसील दिवस होने के बावजूद भी पूर्ति कार्यालय 9ः40 तक नहीं खोला गया। जिससे कार्ड सही कराने आने वाले लोग आफिस के बाहर खड़े इंतजार करते रहे। डीएम पुलकित खते का सख्त आदेश है कि सभी आफिस 9ः30 बजे तक खोल दिये जायें और जनसुनवाई शुरु कर दी जाये लेकिन तहसील के कई आफिस 10 बजे से पहले नहीं खुल रहे हैं। अधिकारी डीएम के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए 10 बजे से पहले आफिस नहीं खोल रहे हैं। आज शनिवार को तहसील दिवस होने के बावजूद भी पूर्ति कार्यालय 9ः40 तक बंद दिखाई दिया। अपना राशन कार्ड सही करवाने आये उपभोक्ता गेट के बाहर इंतजार करते रहे। लेकिन पूर्ति निरीक्षक रजनीश चन्द्र शुक्ला के दर्शन नहीं हुए न ही कर्मचारियों ने आकर आफिस खोलने की जहमत उठाई। यही नहीं तहसील के कई आफिस 10 बजे से पहले नहीं खोले जाते हैं न ही फरियादियों की फरियाद सुनने वाला कोई आता है। ऐसे में कैसे पीड़ितों को न्याय मिल पायेगा। पीड़ित अपने घर से सुबह जल्दी इसलिए आते हैं कि वह काम निपटाकर अपने घर का काम निपटा सकें लेकिन इन अधिकारियों की लापरवाही की वजह से गरीब वेसहारा लोग पूरे पूरे दिन आफिसों में लाईन लगाकर खड़े रहते हैं। अधिकारी इनकी समस्या सुनने को तैयार नहीं हैं।

See also  ऑक्सीजन सिलेंडर के अभाव में केजीएमयू में तीन बच्चों की मौत