( sun line )
( sun line )

क्या सूर्य रेखा ( sun line )भाग्य के खोलती है. राज?

‘सूर्य रेखा: हाथों की लकीरें भी व्यक्ति के भविष्य, स्वभाव और व्यक्तित्व के बारे में बताती हैं. हस्तरेखा शास्त्र में भी हाथों की लकीरों के बारे में बताया गया है. आज हम जानेंगे हथेली में दिखने वाली सूर्य रेखा ( sun line ) के बारे में. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जिन लोगों के हाथों में रेखा स्पष्ट व गहरी होती है, ऐसे लोगों क मन में किसी भी कार्य को पूरा करने के इच्छा प्रबल होती है. ऐसी सूर्य रेखा के साथ ही, अगर व्यक्ति की हाथ की पहली उंगली के पर्व लंबे हैं तो ऐसे जातक साहित्य और कला में सफलता पाते हैं.

वहीं, द्वितीय पर्व लंबे होने पर किसी तरल पदार्थ के बिजनेस से जुड़ा होता है. औकर तीसरे पर्व लंबे होने पर व्यक्ति को धन कमाने के कई मौके मिलते हैं. हाथों की सभी रेखाओं का अपना महत्व है. सूर्य रेखा भी इन्हीं में से एक है. इसका स्पष्ट होने व्यक्ति का भाग्यशाली होने का सूचक है. आइए जानते हैं हथेली में सूर्य रेखा के बारे में.

– अगर सूर्य रेखा जीवन रेखा से निकलकर सूर्य क्षेत्र तक जाती है, तो इसे भाग्य में वृद्धिकारक माना जाता है. ऐसे जातक कम उम्र में ही खास मुकाम हासिल कर लेते हैं.

– भाग्‍य रेखा से सूर्य रेखा निकलने के साथ रेखा मोटी काली और स्‍पष्ट दिखाई दे तो ये संयोग जातकों के लिए बहुत शुभ माना जाता है. ऐसे लोगों को बिजनेस में सफलता मिलती है. साथ ही, भविष्य में दिन दुनी और रात चौगुनी तरक्की करते हैं.

– मोटी सूर्य रेखा मणिबंध से निकलना भी शुभ संकेत होता है. ऐसे जातक जीवन में किसी प्रकार के कष्ट का सामना नहीं करते. ऐसे जातक जो चाहते हैं, जीवन में वही पाते हैं.

See also  एक ऐसे Dad जिसके भक्त रहे कई प्रधानमंत्री और सुपरस्टार

– सूर्य रेखा चंद्र पर्वत से निकलकर सूर्य पर्वत तक जाए तो इन्हें काफी बुद्धिमान माना जाता है. आम तौर पर ऐसे लोग डॉक्‍टर, इंजीनियर और टीचर्स बनते हैं. इनकी कल्‍पनाशक्ति अच्‍छी होती है. वहीं, अपनी बोलने की कला से सबको आकर्षित करते हैं.

– ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य रेखा का पतला और अस्‍पष्‍ट होना बहुत मेहनत के बाद सफलता मिलने की ओर संकेत करता है. ऐसे लोग हर चीज थोड़ी मात्रा में पाते हैं.