बेगूसराय। डीएम रौशन कुशवाहा ने गुरुवार को प्रखंड की सफापुर पंचायत में सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का निरीक्षण किया। इस क्रम में उन्होंने सफापुर पंचायत के राजकीय कृत मध्य विद्यालय सफापुर, आंगनबाड़ी केंद्र, मनरेगा द्वारा संचालित योजनाओं सहित अन्य योजनाओं का निरीक्षण किया। मध्य विद्यालय सफापुर में लगभग एक घंटे तक डीएम जमे रहे। विभिन्न कक्षाओं में जाकर विद्यालय में पठन-पाठन कर रहे बच्चों से लंबी बातचीत की।

डीएम ने बच्चों से शैक्षणिक सवाल के साथ-साथ विद्यालय के प्रबंध, मध्याह्न भोजन सहित अन्य कार्यक्रम की जानकारी ली। डीएम ने पत्रकारों को बताया कि विद्यालय की स्थिति बहुत ही खराब है। विद्यालय भवन की स्थिति भी जर्जर है। शौचालय एवं विद्यालय की साफ सफाई की स्थिति दयनीय है। शुद्ध पेयजल की व्यवस्था नहीं है। जहां चापाकल है, वहां गंदा पानी जमा हुआ है। कुल मिलाकर विद्यालय की स्थिति पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि जिनकी भी लापरवाही होगी उन्हें चिन्हित कर दोषी के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

मध्याह्न भोजन के सवाल पर बच्चों ने डीएम को बताया कि विद्यालय में मध्याह्न भोजन के क्रम में अंडा भी नहीं दिया जाता है। पत्रकारों द्वारा सवाल करने पर डीएम ने कहा कि पठन-पाठन की स्थिति भी औसत है। शिक्षकों को निर्देश दिया गया है कि वे इसमें सुधार लाएं। विद्यालय निरीक्षण के बाद डीएम विद्यालय के निकट संचालित आंगनबाड़ी केंद्र पर गए एवं वहां की स्थिति का जायजा लिया। इस क्रम में उन्होंने आंगनबाड़ी सेविका को बच्चों की संख्या बढ़ाने एवं केंद्र को व्यवस्थित करने का निर्देश दिया। डीएम ने मौके पर उपस्थित मनरेगा पीओ से पंचायत में मनरेगा से हुए कार्यों की जानकारी ली। मनरेगा पीओ ने इसे बताने में असमर्थता व्यक्त करते हुए कहा कि हम नए आए हैं। इस पर डीएम ने फटकार लगाते हुए कहा कि मैं भी 10 दिन पहले आया हूं।

See also  कांग्रेस ने महंगाई, बेरोजगारी, अग्निपथ योजना व जीएसटी के खिलाफ किया प्रदर्शन 

इसका मतलब यह नहीं मुझे जानकारी नहीं हो। जांच उपरांत डीएम ने मनरेगा से निर्मित आंबेडकरनगर सफापुर में एक पोखर का भी निरीक्षण किया और पोखर की स्थिति को बेहतर बताया। इस क्रम में उन्होंने पंचायत सरकार भवन का भी निरीक्षण किया एवं वहां उपस्थित लेखापाल नेहा कुमारी से जानकारी प्राप्त की। ग्रामीणों ने डीएम से बिहार सरकार भवन की चहादीवारी, मध्य विद्यालय सफापुर की चहारदीवारी निर्माण की मांग की। मौके पर मनरेगा पीओ सुबोध कुमार, जेई पंकज कुमार, रोजगार सेवक राजेश कुमार, लेखापाल नेहा कुमारी आदि मौजूद थे।