डीआईजी/एसएसपी ने नशा मुक्ति की दिलाई शपथ…

देहरादून। छात्र-छात्राओं को नशे से दूर रखने के लिए डीएवी पीजी कॉलेज दीनदयाल सभागार में मंगलवार को एंटी ड्रग्स सेल तथा देहरादून पुलिस के नशा मुक्ति अभियान के तहत एक गोष्ठी की गई। गोष्ठी में डीआईजी/ एसएसपी दलीप सिंह कुंवर और एसपी सिटी सविता डोभाल, सीओ जूही मनराल विशेष रूप से उपस्थित थीं। अतिथियों का स्वागत कॉलेज के प्राचार्य प्रो. (डॉ ) केआर जैन ने किया। इस अवसर पर डीएवी कॉलेज की एंटी ड्रग सेल के विषय में डॉक्टर सविता चौनियाल ने विस्तृत रूप से जानकारी दी। मंत्रणा सोसायटी द्वारा एक नुक्कड़ नाटक किया गया जिसमें छात्र-छात्राओं ने ड्रग के दुष्प्रभाव को समझाया।

मुख्य अतिथि डीआईजी/ एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने नशे की प्रवृत्ति और उत्तराखंड पुलिस के किए जा रहे प्रयासों पर विस्तृत रूप से अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि डीएवी कॉलेज की क्षमता बहुत बेहतर है और इसीलिए इस अभियान का केंद्र उन्होंने प्रारंभिक केंद्र कॉलेज को चुना। डीआईजी ने इस अवसर पर उपस्थित शिक्षकों छात्र छात्राओं को शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राएं, शिक्षक इस अभियान को सफल कराने में पुलिस प्रशासन के सहायक बनेगे। सीओ रायपुर जूही मनराल ने उत्तराखंड पुलिस द्वारा सामाजिक सुरक्षा हेतु चलाए जा रहे आभियान तथा उसमें प्रावधानित गौरा शक्ति के बारे में भी छात्र-छात्राओं , शिक्षकों को अवगत कराया।

इस अवसर पर डॉक्टर एम एम एस जस्सल, मेजर अतुल सिंह, डॉक्टर ओनिमा शर्मा, डॉक्टर रूपाली बहल, डॉ अर्चना पाल ,डॉक्टर सत्यम द्विवेदी, डॉ डीके त्यागी, डॉक्टर सत्यव्रत त्यागी, डॉ प्रशांत सिंह, डॉक्टर बीना जोशी, डॉ रवि शरण दीक्षित , डॉ विनीत विश्नोई डॉक्टर दुबे, रीता पांडेय, डॉक्टर संदीप, विधि, एनसीसी, तथा एनएसएस की छात्र छात्राएं उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर श्रेया रायजादा ने किया।

See also  अर्थ एवं संख्या विभाग द्वारा MOSPI के सहयोग से आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम