मायूस होकर किसान बिना खाद के लौट रहे

देवरिया । लाइन लगाने के बाद भी मायूस होकर किसान बिना खाद के लौट रहे हैं। हालांकि कृषि विभाग के अधिकारी जल्द ही खाद उपलब्ध करा देने का दावा कर रहे हैं। जिले में 165 साधन सहकारी समिति सक्रिय है। जिसमें 106 समितियों पर खाद बुधवार तक थी, लेकिन कुछ ही देर में अधिकांश समितियों से खाद समाप्त हो गई। गुरुवार को किसान खाद के लिए समितियों पर पहुंचे, लेकिन खाद की उपलब्धता न होने के चलते उन्हें वापस लौटना पड़ा। किसानों का कहना है कि खाद न होने से परेशानी उठानी पड़ रही है।

रुद्रपुर के कोड़रा के रहने वाले किसान वीरेंद्र यादव का कहना है कि खाद न मिलने से गेहूं की बोआई नहीं हो पा रहा है, समितियों पर खाद न होने से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अब महंगे दामों पर खाद की खरीदारी करने की मजबूरी है। अवधपुर के किसान सुरेश प्रसाद का कहना है कि समिति पर खाद न मिलने से गेहूं की बोआई प्रभावित हो गई है। गौरीबाजार के भगुआ के रहने वाले किसान इंद्रजीत यादव ने कहा कि समिति पर खाद नहीं है। जिसके चलते गेहूं की बोआई समय से नहीं हो पा रही है। जिला कृषि अधिकारी मोहम्मद मुजम्मिल ने कहा कि जिन समिति पर खाद नहीं है, वहां के लिए एलाटमेंट दे दिया गया है।

See also  मायूस होकर किसान बिना खाद के लौट रहे