क्रूरता की हद हो गयी जब सरेंडर करने जा रहे सैनिक का कटा अंडकोस

मॉस्को. कथित तौर पर यूक्रेन में भाड़े पर लड़ाई लड़ रहे वैगनर ग्रुप के लड़ाकों को लेकर नई खबर सामने आई है, जो हैरान कर देने वाली है. एक नई रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन में वैगनर ग्रुप के सैनिक ने सरेंडर करने की कोशिश की तो कमांडरों ने उसके साथ ज्यादती की और उसके अंडकोष तक काट दिये. एक यूक्रेनी सैन्य खुफिया दस्तावेज ने विस्तार से बताया कि कैसे इस ग्रुप के एक सैनिक ने खुद को कीव की सेना के सामने आत्मसमर्पण करने का प्रयास किया, लेकिन उसे कड़ी सजा दी गई.

एक सैनिक को दूसरे सैनिक से यह कहते हुए सुना जा सकता है, ‘वैगनरियंस ने उसे पकड़ लिया और कमबख्तों ने उसके अंडकोष काट दिए.’ बता दें कि यह वैगनर ग्रुप रूसी बिजनेसमैन और पुतिन के करीबी येवगेन प्रिगोझिन द्वारा संचालित किया जाता है. इस ग्रुप से जुड़ी खबरें लगातार सामने आती रहती है. ऐसा माना जाता है कि इस खूंखार ग्रुप के लड़ाके बेहद ही निर्दयी होते हैं. प्रिगोझिन ने अपने इस संगठन में कैदियों को भी भर्ती कर रखा है.

एक रूसी पत्रकार ने कहा है कि प्रिगोझिन द्वारा भर्ती किए गए रूसी कैदियों में से सिर्फ पांच प्रतिशत सैनिक यूक्रेन की लड़ाई में बचे हैं. माय रशियन राइट्स प्रोजेक्ट द्वारा पोस्ट किए गए एक यू-ट्यूब वीडियो में बोलते हुए, रुस सीटेड चैरिटी फाउंडेशन के प्रमुख ओल्गा रोमानोवा ने कहा कि वैगनर ने 2022 के अंत तक लगभग 42,000 से 43,000 कैदियों की भर्ती की थी. वह संख्या अब 50,000 सेनानियों को पार कर गई है. लेकिन अब मैदान में केवल 10 हजार ही लड़ रहे हैं. क्योंकि बाकी सभी या तो मारे गए हैं, या लापता हैं, या आत्मसमर्पण कर रहे हैं.

हाल ही में वैगनर ग्रुप के एक कमांडर को सीमा पार करने के दौरान गिरफ्तार कर लिया गया था. वहीं बीते शुक्रवार को अमेरिका ने वैगनर पीएमसी के खिलाफ बड़ा कदम उठाते हुए इसे पारंपरिक आपराधिक संगठन करार दिया है. व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि येवगेनी प्रिगोझिन की सैन्य कंपनी के खिलाफ अतिरिक्त प्रतिबंध लगाए जाएंगे, जिसकी घोषणा अगले सप्ताह की जाएगी. व्हाइट हाउस ने कहा था कि अमेरिकी ट्रेजरी विभाग रूसी भाड़े के संगठन वैगनर ग्रुप को अंतरराष्ट्रीय आपराधिक संगठन के रूप में नामित करेगा.

See also  अमेरिका ने कई देशों से अपने राजनयिकों को बुलाया वापस