गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में झांक रहा था कैंटीन कर्मचारी

मुंबई: आईआईटी बॉम्बे में एक कैंटीन कर्मचारी को गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में झांकते हुए पकड़ा गया है। कैंटीन में रात के वक्त ड्यूटी करने वाला यह कर्मचारी रविवार की रात गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में ताकझांक कर रहा था। इसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। छात्राओं ने कर्मचारी के ऊपर आरोप लगाया है कि वह लड़कियों का वीडियो भी बना रहा था। हालांकि पुलिस के मुताबिक इस आरोप की अभी पुष्टि नहीं हो सकी है।

छात्रा ने देखा तो मचाया शोर
यह मामला रविवार की रात सामने आया। एक छात्रा ने किसी को खिड़की से गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में झांकते देखा। इसके बाद उसने शोर मचाकर सबको इसकी जानकारी दी। वहीं आईआईटी बॉम्बे ने इस मामले में बयान जारी किया है। इन-हाउस मैगजीन में जारी इस बयान के मुताबिक मामला हॉस्टल-10 का है। यहां की कैंटीन रविवार को पेस्ट कंट्रोल वर्क के लिए बंद कर दी गई थी। लेकिन यहां काम करने वाले कर्मचारी रात में हॉस्टल परिसर में ही रुक गए थे। बयान के मुताबिक हॉस्टल बिल्डिंग की कुछ विंग्स में बाथरूम की खिड़कियों पर प्लेटफॉर्म जैसा बना हुआ है। यह ग्राउंड फ्लोर से पाइपों से जुड़ा हुआ है। इन्हीं पाइपों का सहारा लेकर झांकने वाला खिड़की तक पहुंचा था।

पाइप डक्ट के सहारे चढ़ा
आईआईटी बॉम्बे के एक प्रवक्ता ने बताया कि हॉस्टल-10 में रहने वालों की सतर्कता के चलते दोषी पकड़ा गया। इसके बाद उसे पोवाई पुलिस को सौंप दिया गया। उन्होंने कहा कि हॉस्टल की नाइट कैंटीन का कर्मचारी पाइप डक्ट के सहारे चढ़कर बाथरूम में झांक रहा था। यह घटना महिलाओं के निजी स्पेस का उल्लंघन है। संस्थान द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि मामले में मुंबई पुलिस जांच कर रही है। इसमें साइबर इंवेस्टिगेशन भी जारी है।

See also  मुंबईः नाबालिग लड़की से नौ महीनों में 29 लोगों ने किया रेप, दो नाबालिग भी शामिल

वीडियो बनाने की जानकारी नहीं
प्रवक्ता ने कहा कि संस्थान को अभी इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि आरोपी द्वारा किसी तरह का फुटेज शेयर किया गया है। वहीं पोवाई पुलिस थाने के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शुरुआती जांच में किसी भी तरह की रिकॉर्डिंग की बात सामने नहीं आई है। हालांकि आरोपी बाथरूम की खिड़की से झांकता हुआ पकड़ा गया है। मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। फिलहाल मामले में पूछताछ जारी है।

ताकि फिर न हो ऐसी घटना
गौरतलब है कि हाल ही में चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां पर हॉस्टल में छात्रा द्वारा अन्य छात्राओं का वीडियो बनाने और उसे अपने बॉयफ्रेंड को भेजने की घटना ने सनसनी फैला दी है। आईआईटी मद्रास में भी ऐसी ही एक घटना सितंबर के पहले हफ्ते में सामने आई थी। यहां पर भी एक कैंटीन कर्मचारी को एक छात्रा के ऊपर हमला करने के मामले में गिरफ्तार किया गया था।