सांसदों के निलंबित करने के विरोध में कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन

सांसदों के निलंबित करने के विरोध में कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन

बुलंदशहर। देश के 142 सांसदों के निलंबन पर शुक्रवार को समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने संयुक्त रूप से विरोध जताया। साथ ही कलक्ट्रेट गेट पर प्रदर्शन कर जिला प्रशासन को राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन सौंपा। कहा कि लोकसभा के इतिहास में पहली बार 142 सांसदों का अलोकतांत्रिक तरीके से जो निलंबन हुआ है वह इतिहास में काले अक्षरों में लिखा जाएगा।कलक्ट्रेट गेट पर प्रदर्शन से पूर्व समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता अपने-अपने जिला कार्यालय से विरोध जताते हुए निकले। सपा जिलाध्यक्ष मतलूब अली ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आह्वान पर कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन सौंपा।

बताया कि केंद्र सरकार तानाशाही पूर्ण रवैया बरत रही है। केंद्र सरकार निरंतर ऐसे फैसले कर रही है, इससे देश में संविधान द्वारा स्थापित लोकतांत्रिक संस्थाओं का लोकतांत्रिक मूल्य निरंतर गिर रहा है। विपक्षी सांसदों का निलंबन देश में बढ़ रही महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार से जनता का ध्यान हटाने के लिए उठाया गया कदम है। लोकतांत्रिक संस्थाओं, लोकतांत्रिक मूल्य के विपरीत उठाए जाने वाले केंद्र सरकार के प्रत्येक कदम का समाजवादी पार्टी सड़क पर उतरकर पुरजोर विरोध करेगी। शहर अध्यक्ष जरार्र खान ने कहा कि 142 विपक्षी सांसदों के अलोकतांत्रिक तरीके से किए गए निलंबन को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर उनकी बहाली की मांग को लेकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भेजा है।

साथ ही जिले की टूटी हुई सड़कों के निर्माण कराने, स्वास्थ्य सेवाओं को सुचारु कराने और नव निर्मित कांशीराम आवासों को पात्र व्यक्तियों को आवंटित करने की मांग की है। इस दौरान जिला महामंत्री विजय त्यागी, पूर्व विधायक होशियार सिंह, पूर्व सपा जिलाध्यक्ष हिमायत अली, प्रदेश कार्यकारिणी के विशेष आमंत्रित सदस्य हाजी अख्तर, प्रदेश सचिव संजीव त्यागी, अजित हिमाचल और मीडिया प्रभारी राजेंद्र सिंह भूमिहार आदि मौजूद रहे।वहीं, आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता विकाश शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार अपनी मनमानी कर संसद में जो बिल पास कर रही है। विपक्ष बोल न पाए इसलिए 142 सांसदों का निलंबन किया हैं। देश के गृहमंत्री के इशारे पर आप पार्टी के नेताओं को जेलों में डाला जा रहा है। जिसे इंडिया गठबंधन बर्दाश्त नहीं करेगा। इस दौरान पार्टी के पदाधिकारी मौजूद रहे।

उधर, जिला व शहर कांग्रेस कमेटी ने नगर के राजेबाबू पार्क के बाहर धरना प्रदर्शन कर सांसदों के निलंबन का विरोध जताया। जिलाध्यक्ष ठाकुर राकेश भाटी व शहर अध्यक्ष प्रशांत बाल्मीकि ने कहा की ये लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाने जैसा है। इससे सदन की मर्यादा पर गहरी ठेस पहुंची है। संसद में सुरक्षा को लेकर प्रश्न करने पर विपक्ष के सांसदों को निलंबित कर दिया। कहा कि भाजपा के जिस सांसद के विजिटर पास पर दो व्यक्ति सांसद में आए उस सांसद पर कार्रवाई करने की जगह विपक्ष के सांसदों को निलंबन करना अनैतिक है। जिसका इंडिया गठबंधन निंदा करता है। इस दौरान नरेंद्र चौधरी, जिया उर रहमान, शरीफ, सलाम, रवि लोधी और राजेंद्र सागर आदि मौजूद रहे।

About The Author

Related Posts

Latest News