मतदाता सूची में नाम डालने व संशोधन कराने के लिए कराये अपना पंजीकरण 25 नवम्बर से

मतदाता सूची में नाम डालने व संशोधन कराने के लिए कराये अपना पंजीकरण 25 नवम्बर से

बस्ती - दिनॉक 01.01.2024 को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले 25 एवं 26 नवम्बर को अपने मतदान केन्द्र पर पहुॅचकर अपना नाम मतदाता सूची में फार्म-6 भरकर सम्मिलित करा सकते है तथा जिनको अपने मतदाता पहचान पत्र में किसी प्रकार का संशोधन कराना है, तो वह भी अपने मतदाता केन्द्र पर संबंधित बी.एल.ओ. द्वारा फार्म-8 भरकर करा सकते है। उक्त जानकारी देते हुए एडीएम/उप जिला निर्वाचन अधिकारी कमलेश चन्द्र ने बताया है कि इसके अतिरिक्त आप अपना फार्म-6, 7 व 8 https://voters.eci.gov.in  पर लॉगिन करके ऑनलाइन भी कर सकते है।
उन्होने बताया कि मतदाता सूची में नाम देखने के लिए वेबसाइट https://ceouttarpradesh.nic.in  पर Search Your Name Electoral Roll  बटन पर क्लिक करके मतदाताओं द्वारा अपने से संबंधित विवरण की पुष्टि की जा सकती है। मतदाता https://electoralseaarch.in  एवं  https://voters.eci.gov.in  पर भी अपना नाम मतदाता सूची में देख सकते है तथा अपने मोबाइल में  Voter Help Line app  डाउनलोड करके भी उक्त सेवायें प्राप्त की जा सकती है।
उन्होने बताया कि मतदाताओं को ऑनलाइन पंजीकरण करने में सुविधा हेतु CEOUP Website, Voter Helpline App & Voters.eci.gov.in  का  QR Code का स्केन कर आवश्यकतानुसार प्रयोग कर सकते है।

23

Tags:

About The Author

Sarvesh Srivastava Picture

सर्वेष श्रीवास्तव, उत्तर प्रदेश के बस्ती जनपद के ब्यूरो प्रमुख

Latest News

सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम
अलीगढ़। एआरटीओ प्रवेश कुमार यादव की मिली भगत से हो रहा है। अवैध और चोरी की बाइक और स्कूटर पर...
इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर राज ठाकरे ने कहा ”ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से वोटिंग होनी चाहिए
UP: सिपाही भर्ती पेपर लीक: जाने कहां से हुई चूक
टेक्नॉलाजी युग के साथ हमको आगे बढ़ना ही होगा : राज्यपाल दत्तात्रेय
वित्त मंत्री सीतारमण ने बिट्स पिलानी के पांचवें परिसर का उद्घाटन किया
लोकसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी मुख्यालय में पांच राज्यों की कोर ग्रुप की बैठक बुलाई
प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद सभी फेलोज को प्रदेश के 100 चयनित पिछड़े नगरीय निकायों में भेजा जाएगा