रिकॉर्ड तेजी के बाद धड़ाम हुआ बाजार, सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 1,610 अंक टूटा

 निवेशकों को एक दिन में ही 9.32 लाख करोड़ का नुकसान

रिकॉर्ड तेजी के बाद धड़ाम हुआ बाजार, सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 1,610 अंक टूटा

नई दिल्ली। घरेलू शेयर बाजार आज जबरदस्त उतार-चढ़ाव का गवाह बना। आज के कारोबार की शुरुआत रिकॉर्ड मजबूती के साथ हुई थी। पहले आधे घंटे के कारोबार में ही शेयर बाजार और मजबूत होकर नए शिखर तक पहुंच गया। पूरे दिन के कारोबार के बाद सेंसेक्स 1.30 प्रतिशत और निफ्टी 1.41 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुए। रिकॉर्ड मजबूती के बाद मुनाफावसूली का दबाव बन जाने की वजह से बाजार के दोनों सूचकांक बुरी तरह से टूट गए। सेंसेक्स 72 हजार अंक के स्तर के करीब पहुंचने के बाद 1,600 अंक से भी अधिक टूट कर 70,300 अंक के करीब पहुंच गया। इसी तरह निफ्टी 21,600 अंक के करीब पहुंचने के बाद 500 अंक से अधिक लुढ़क कर 21,100 अंक से भी नीचे पहुंच गया। आज के कारोबार में बाजार में चौतरफा बिकवाली नजर आई। पावर, मेटल और ऑटोमोबाइल सेक्टर के शेयरों में आज सबसे अधिक बिकवाली होती रही। सेक्टोरल फ्रंट पर देखें, तो सभी सेक्टर आज लाल निशान में बंद हुए। ऑयल एंड गैस, कैपिटल गुड्स, रियल्टी और पावर इंडेक्स 2 से लेकर 4 प्रतिशत तक की गिरावट के साथ बंद हुए। ब्रॉडर मार्केट में भी आज जम कर बिकवाली होती रही, जिसके कारण बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 3.12 प्रतिशत की कमजोरी के साथ बंद हुआ।

इसी तरह स्मॉलकैप इंडेक्स ने 3.42 प्रतिशत की गिरावट के साथ आज के कारोबार का अंत किया। बिकवाली का दबाव आज इतना अधिक था कि कई साल बाद सेंसेक्स में शामिल सभी 30 शेयर गिरावट के साथ लाल निशान में बंद हुए। आज बाजार में आई जोरदार गिरावट के कारण स्टॉक मार्केट के निवेशकों की संपत्ति में 9 लाख करोड़ रुपये से भी अधिक की कमी हो गई। बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैपिटलाइजेशन आज के कारोबार के बाद घट कर 349.79 लाख करोड़ रुपये (अस्थाई) हो गया, जबकि पिछले कारोबारी दिन यानी मंगलवार को इनका मार्केट कैपिटलाइजेशन 359.11 लाख करोड़ रुपये था। इस तरह निवेशकों को आज के कारोबार से करीब 9.32 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो गया।

आज दिन भर के कारोबार में बीएसई में 3,921 शेयरों में एक्टिव ट्रेडिंग हुई। इनमें 661 शेयर बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि 3,175 शेयरों में गिरावट का रुख रहा, वहीं 85 शेयर बिना किसी उतार चढ़ाव के बंद हुए। एनएसई में आज 2,137 शेयरों में एक्टिव ट्रेडिंग हुई। इनमें से 204 शेयर मुनाफा कमाकर हरे निशान में और 1,933 शेयर नुकसान उठाकर लाल निशान में बंद हुए। इसी तरह सेंसेक्स में शामिल सभी 30 शेयर आज गिरावट के साथ लाल निशान में बंद हुए। निफ्टी में शामिल शेयरों में से सिर्फ 4 शेयर हरे निशान में और 46 शेयर लाल निशान में बंद हुए।

बीएसई का सेंसेक्स आज 210.47 अंक की बढ़त के साथ 71,647.66 अंक की रिकॉर्ड ऊंचाई पर खुला। कारोबार की शुरुआत होते ही खरीदारी के सपोर्ट से थोड़ी ही देर में ये सूचकांक 417.88 अंक उछल कर अभी तक के सर्वोच्च स्तर 71,913.07 अंक तक पहुंच गया, लेकिन इसके बाद बाजार में मुनाफावसूली के चक्कर में चौतरफा बिकवाली शुरू हो गई। हालांकि, खरीदारों ने बीच-बीच में लिवाली करके बाजार को सपोर्ट करने की कोशिश भी की। इसके बावजूद बिकवाली का दबाव इतना अधिक था कि ये सूचकांक लगातार लुढ़कता चला गया।

बाजार में लगातार हो रही बिकवाली के कारण ये सूचकांक आज का कारोबार खत्म होने की थोड़ी देर पहले ऊपरी स्तर से 1,610.47 अंक टूट कर 1,134.59 अंक की गिरावट के साथ 70,302.60 अंक के स्तर पर पहुंच गया। कारोबार के आखिरी मिनट में इंट्रा-डे सेटलमेंट की वजह से हुई खरीदारी के सपोर्ट से सेंसेक्स निचले स्तर से मामूली रिकवरी करके 930.88 अंक की कमजोरी के साथ 70,506.31 अंक के स्तर पर बंद हुआ।सेंसेक्स की तरह ही एनएसई का निफ्टी भी आज 90.40 अंक की बढ़त के साथ 21,543.50 अंक के स्तर पर मजबूती का नया रिकॉर्ड बनाते हुए खुला।

कारोबार की शुरुआत होने के बाद खरीदारी के सपोर्ट से ये सूचकांक 139.90 अंक की मजबूती के साथ अभी तक के सर्वोच्च स्तर 21,593 अंक तक पहुंच गया। इसके बाद बिकवाली का दबाव बन जाने की वजह से इस सूचकांक को भी जोरदार गिरावट का सामना करना पड़ा। बाजार में हो रही चौतरफा बिकवाली के दबाव की वजह से ये सूचकांक ऊपरी स्तर से 505.65 अंक लुढ़क कर 21,087.35 अंक के स्तर पर पहुंच गया।

हालांकि, आखिरी 10 मिनट के कारोबार में हुई खरीदारी के कारण निफ्टी निचले स्तर से थोड़ी रिकवरी करके 302.95 अंक की गिरावट के साथ 21,150.15 अंक के स्तर पर बंद हुआ। बाजार में दिनभर हुई खरीदारी के बाद स्टॉक मार्केट के दिग्गज शेयरों में से ओएनजीसी 1.45 प्रतिशत, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स 1.05 प्रतिशत, ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज 0.89 प्रतिशत और एचडीएफसी बैंक 0.25 प्रतिशत की मजबूती के साथ बंद हुए। दूसरी ओर, अडाणी पोर्ट्स 5.76 प्रतिशत, अडाणी एंटरप्राइजेज 5.35 प्रतिशत, यूपीएल 4.44 प्रतिशत, टाटा स्टील 4.17 प्रतिशत और कोल इंडिया 4.03 प्रतिशत की गिरावट के साथ आज के टॉप 5 लूजर्स की सूची में शामिल हुए।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News