देश में कोविड की नई लहर दस्तक दे रही

देश में कोविड की नई लहर दस्तक दे रही

हैदराबाद। देश में कोविड की नई लहर दस्तक दे रही है। तेलंगाना में मंगलवार को कोवि़ड के चार मामले सामने आए। इसके बाद राज्य सरकार ने लोगों से सतर्क रहने की अपील की है। राज्य के सार्वजनिक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण निदेशक ने एक बयान में कहा कि तेलंगाना में मंगलवार को कोविड के चार मामले दर्ज किए। निदेशक ने पड़ोसी राज्यों में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि को देखते हुए जनता से सतर्क रहने की अपील की। साथ ही 10 साल से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाओं और 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों को जब तक अनिवार्य न हो, बाहर जाने से बचने की सलाह दी गई है।

बयान में कहा गया है कि 20 से 50 वर्ष के आयु वर्ग में कोविड का संक्रमण अधिक हो रहा है। इसलिए ऐसे लोगों से अनुरोध है कि वे ऑफिस या अन्य जरूरी कार्यों के लिए बाहर जाते समय उचित सावधानी बरतें। सभी लोगों को घर से बाहर निकलने पर मास्क पहनने की सलाह दी गई है। बयान में कहा गया है कि फेस मास्क कोविड-19 से बचाव का पहला उपाय है। मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

बचाव के लिए शारीरिक दूरी जरूरी
स्वास्थ्य विभाग ने एडवाइजरी में कहा है कि कोविड से बचाव के लिए छह फीट की शारीरिक दूरी का पालन करना जरूरी है। कार्यस्थलों पर साबुन और हाथ धोने की सुविधा या सैनिटाइजर उपलब्ध कराया जाना है। साथ ही कर्मचारियों के बीच पर्याप्त शारीरिक दूरी बनाए रखी जानी चाहिए। एडवाइजरी में नागरिकों से अपील की गई है कि वे गैरजरूरी यात्रा से बचें। यदि बहुत जरूरी है तो यात्रा के दौरान सभी कोविड बचाव नियमों जैसे फेस मास्क, सैनिटाइजर का इस्तेमाल, शारीरिक दूरी का पालन करना चाहिए।

लक्षण दिखने पर फौरन स्वास्थ्य केंद्र जाएं
स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि बुखार, खांसी, गले में खराश, नाक बहना, सांस लेने में दिक्कत, शरीर में दर्द और सिरदर्द जैसे फ्लू या इन्फ्लूएंजा लक्षण दिखने पर फौरन नजदीकी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र पर जाएं और बिना किसी देरी के स्वास्थ्य की जांच कराएं। स्वास्थ्य विभाग ने उच्च रक्तचाप, मधुमेह, हृदय रोग, किडनी रोग, कैंसर या किसी अन्य पुरानी बीमारी से ग्रसित लोगों से अपील की है कि वे घरों के अंदर रहें और कोविड जोखिम से बचने के लिए चिकित्सा देखभाल को छोड़कर किसी भी प्रकार की यात्रा से बचें।

Tags:

About The Author

Latest News

एसीबी के अनुसंधान में एक दशक से अधूरी है पलामू के नक्सल प्रभावित इलाकों की 17 सड़कें एसीबी के अनुसंधान में एक दशक से अधूरी है पलामू के नक्सल प्रभावित इलाकों की 17 सड़कें
पलामू। एंटी करप्शन ब्यूरो की जांच के कारण पिछले एक दशक से पलामू के नक्सल प्रभावित इलाकों की 17 सड़कें...
छत्तीसगढ़ बोर्ड परीक्षा : द्वितीय अवसर के लिए आवेदन शुरू, अंतिम तिथि 30 तक
आईपीसी में कई बदलाव, गैंगरेप पर लगेगा धारा-70(1)
हाले एटीपी सेमीफाइनल में पहुंचकर झांग झिझेन ने रचा इतिहास
दिवंगत महान फुटबॉलर पेले की मां सेलेस्टे अरांतेस का 101 वर्ष की आयु में निधन
टी20 विश्व कप: होप के तूफानी अर्धशतक की बदौलत वेस्टइंडीज ने अमेरिका को 9 विकेट से हराया
साइकिलिंग स्पर्धा के माध्यम से प्रशंसक पेरिस की प्राकृतिक सुंदरता का अनुभव कर सकेंगे: यूसीआई अध्यक्ष