भोजपुरी के शेक्सपियर भिखारी ठाकुर  की जयंती मनाई गई

जिला मुख्यालय के पुरानी चौक में भोजपुरी समाज द्वारा महान स्वतंत्रता सेनानी भोजपुरी के शेक्सपियर भिखारी ठाकुर  की जयंती मनाई गई.   जयंती के अवसर पर उन्हें नमन किया गया. इस अवसर पर जनता दल यूनाइटेड के प्रदेश महासचिव सह पूर्व जिला अध्यक्ष प्रमोद कुमार पटेल ने उन्हें नमन करते हुए कहा कि भिखारी ठाकुर  को उनकी जयंती पर हम सब लोग उन्हें नमन करते हैं. श्री पटेल ने कहा कि भिखारी ठाकुर जी का जन्म बिहार के सारण जिला के छपरा में 18 दिसंबर 1887 को हुआ था. भिखारी ठाकुर देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों में थे. उन्हें  भोजपुरी का शेक्सपियर भी कहा जाता है .वे कवि,गीतकार , नाट्य निदेशक, गायक ,संगीतकार और एक कुशल अभिनेता भी थे. उन्होंने भोजपुरी भाषा की संस्कृति को सामाजिक सरोकारों के साथ ऐसा पिरोया कि अभिव्यक्ति की एक धारा भिखारी शैली कही जाने लगी . बिहार में  लोकनाट्य परंपरा के जनक के रूप में प्रख्याति प्राप्त किए थे .वे हमेशा अपने नाटकों में सूत्रधार बनते और चुट्टीले अंदाज में अपनी बात कह जाते थे .  उनके चाहने वालों में किसी ने उन्हें भोजपुरी का भारतेंदु हरिश्चंद्र  कहा तो किसी ने उन्हें भोजपुरी का शेक्सपियर कहा . भोजपुरी के ऐसे महान नायक और स्वतंत्रता सेनानी को सरकार ने उन्हें पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया था . भोजपुरी के महान लोक गायक भिखारी ठाकुर जी सांसारिक मायाजाल को छोड़कर देश और दुनिया में भोजपुरी को उच्च स्थान दिलाकर 10 जुलाई 1971 को स्वर्ग सिधार गए. भोजपुरी के शेक्सपियर महान स्वतंत्रता सेनानी भिखारी ठाकुर जी की जयंती पर उन्हें प्रदेश महासचिव सह पूर्व जिला अध्यक्ष प्रमोद कुमार पटेल, डा हरेंद्र प्रसाद, मदन मोहन प्रसाद वर्मा,
संजय कुमार पटेल, नवनीत जी, अनिल कुमार गुप्ता, जय प्रकाश सिंह, अरुण कुमार कुशवाहा, सहित दर्जनों भोजपुरी प्रेमियों ने उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किया.
Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News