पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप लगाकर जिलाध्यक्ष को पद से हटाया

पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप लगाकर जिलाध्यक्ष को पद से हटाया

शाजापुर। विधानसभा चुनाव समाप्त होने के साथ ही जहां चुनावी सरगर्मी में शांत हो गई है, वहीं अब पार्टियों में सियासी हलचल तेज हो चुकी है। इसी के चलते कांग्रेस ने अनुशासनहीनता तथा पार्टी विरोधी गतिविधि में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए अपने जिलाध्यक्ष को पद से मुक्त कर दिया है। रविवार शाम सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुए एक लेटर ने शाजापुर में सियासी भूचाल ला दिया। मध्य प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष राजीव सिंह के हस्ताक्षर युक्त उक्त लेटर में शाजापुर जिलाध्यक्ष योगेंद्र सिंह बंटी (बना) को जिलाध्यक्ष पद से मुक्त करने की जानकारी दी गई। बंटी बना को पद से हटाने के पीछे उनके द्वारा विधानसभा चुनाव के दौरान अधिकृत कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में कार्य न करते हुए पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलग्न रहने का आरोप लगाया गया है। साथ ही उनके द्वारा अपने समर्थक व कार्यकर्ताओं को भाजपा में प्रवेश करवाकर कर पार्टी को नुक़सान पहुंचाने का कार्य किया गया। जिसे देखते हुए उन्हें तत्काल प्रभाव से शाजापुर कांग्रेस जिलाध्यक्ष पद से मुक्त कर दिया गया। साथ ही 7 दिवस के भीतर अपना स्पष्टीकरण प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेजने के निर्देश भी लेटर के माध्यम से दिए गए। उक्त पत्र जारी होने के बाद हलचल तेज हो गई।



Tags:

About The Author

Latest News