गांव की 70 फीसदी आबादी जीवन के मूलभूत अधिकारों से है वंचित: संजय गौतम 

गांव की 70 फीसदी आबादी जीवन के मूलभूत अधिकारों से है वंचित: संजय गौतम 

नन्दकिशोर दास
 
बेगूसराय ब्यूरो। सदर प्रखण्ड क्षेत्र के कुसमहौत जगदीशपुर गांव में ग्राम संवाद का आयोजन भारतीय कामगार महासंघ के द्वारा किया गया। जिसकी अध्यक्षता अनिल ठाकुर ने की। पूर्व विधानसभा प्रत्याशी प्रो. संजय गौतम ने आमजनों को संबोधित करते हुए कहा कि गांव की 70 प्रतिशत आबादी जीवन की मूलभूत सुविधाओं से नदारद है। चाहें वो शिक्षा, स्वास्थ्य, मकान, सड़क, कृषि, जल, सरकारी योजनाओं इत्यादि क्यों नहीं हो। आमलोग रोजमर्रा की जिंदगी जी रहे हैं। हर परिवार को जीने के लिए कर्ज का सहारा लेना पर रहा है। सरकारी योजनाएं फाइलों और भाषण में ही नजर आती है। पूरा सरकारी सिस्टम भष्टाचार के आकंठ में डूबा है। आमलोगों को अपने हक के लिए लम्बी संघर्ष की लड़ाई लड़ने की जरुरत है। गरीब के बेटा को भी अच्छी शिक्षा मिले, वो भी अफसर बनें, इसकी जरूरत है। इस मौके पर नगर निगम के पूर्व मेयर आलोक कुमार अग्रवाल ने कहा कि सामाजिक चेतना की जरुरत है। अपने अधिकार के लिए स्वंय अपनी आवाज को उठाना होगा। नेताओं ने समाज को जाति, धर्म, साम्प्रदाय में तोड़कर अंग्रेज की तरह शासन और हुकुमत कर रहे हैं। हम अपनी आवाज को उठाते हैं, तो प्रशासन के तरफ से दबाया जाता है। सरकारी योजनाओं का लाभ मिले। इसके लिए पंचायत प्रतिनिधि को आगे आना चाहिए। गरीबी रेखा का प्रतिशत बढते जा रहा है। युवा नेता धर्मवीर ने कहा कि आपलोग एकजुट हों और प्रतिनिधि का बहिष्कार करें। जो सिर्फ वोट लेता हो, उसके बाद कभी आपके सुख-दुख को जानने भी नहीं आता हो। हमारी एकता ही हमारी पहचान बनेगी। मौके पर ग्रामीण संजय कुमार, अनुराधा कुमारी, अमरेश कुमार, दीपक महतो, रंजीत राय सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने अपने बच्चों को उच्च शिक्षा तक पढ़ाने की शपथ ली।
 
 
Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News