निर्माणाधीन गौशाला की जिलाधिकारी ने की समीक्षा

निर्माणाधीन गौशाला की जिलाधिकारी ने की समीक्षा

प्रतापगढ़। जिलाधिकारी संजीव रंजन की अध्यक्षता में कल देर सायंकाल विकास भवन सभागार में निराश्रित गोवंश संरक्षण एवं भरण पोषण, निर्माणाधीशन गौशालाओं के कार्यो की समीक्षा की गयी। गौशालाओं में समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि हरा चारा, भूसा, पशुआहार, स्वच्छ पेयजल, तिरपाल, बोरा, टीनशेड, बीमार पशुओं की उचित देखभाल इत्यादि मूलभूत सुविधाओं से सम्बन्धित व्यवस्थायें सुनिश्चित करा लें।

उन्होने कहा कि निराश्रित गोवंशांं के संरक्षण के लेकर शासन स्तर से लगातार समीक्षा की जाती है, अतः इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी यदि लापरवाही पायी जायेगी तो सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी के विरूद्ध कठोर कार्रवाई प्रस्तावित की जायेगी।

बैठक में जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी गौशालाओं के लिये चारागाह हेतु यदि जमीन उपलब्ध नही है तो उपजिलाधिकारियों से समन्वय स्थापित कर जमीन का चिन्हांकन करते हुये उसमें हरे चारे की बुवाई कराना सुनिश्चित करें।

समस्त अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि कोई भी छुट्टा पशु सड़कों पर न घूमे, यदि ऐसा पाया जायेगा तो सम्बन्धित के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी। जिलाधिकारी ने जनपद में निर्माणाधीन गौशालाओं की समीक्षा की तो बताया गया कि 18 स्थलों पर गौशालाओं का निर्माण कार्य किया जा रहा है, जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि दिसम्बर 2023 के अन्त तक निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया जाये और उसमें गोवंशों को संरक्षित किया जाये।

जिलाधिकारी ने कहा कि जिन स्थलों पर गौशालाओं हेतु जमीन विवादित है वहां पर सम्बन्धित उपजिलाधिकारी से सम्पर्क कर विवादित जमीन का निराकरण कराना सुनिश्चित करें। गौशालाओं में ठण्ड से बचाव हेतु तिरपाल, बोरों, पराली आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। मुख्यमंत्री निराश्रित गोवंश सहभागिता योजना के तहत गोवंश के पशुपालक को समयानुसार धनराशि भेजे जाने के सम्बन्ध में भी जानकारी ली गयी तो बताया गया कि माह अक्टूबर तक धनराशि भेजी जा चुकी है।

जिलाधिकारी ने समस्त अधिशासी अधिकारियों एवं खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो भी निर्माण कार्य कराये जाये वह गुणवत्तायुक्त हो, इसमें लापरवाही कदापि न बरती जाये। जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारियों एवं खण्ड विकास अधिकारियों से कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में आमजन मानस से यह अपील करें कि गौशालाओं में गोवंशों के खान-पान हेतु जो भी अनावश्यक भोज्य पदार्थं/चारा हो उसे स्वेच्छा से दान करें।

 जिलाधिकारी ने समस्त अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि शहर एवं कस्बों की सड़कों की साफ-सफाई कराना सुनिश्चित करें और कूड़ा रोड पर न मिले, यदि किसी दुकानदार या अन्य किसी के द्वारा कचड़ा रोड पर फेकते है तो उसके विरूद्ध कार्रवाई की जाये। नाले एवं नालियों की साफ-सफाई करायी जाये। सड़कों पर जो अवैध अतिक्रमण किये गये है उसे हटाया जाये। उन्होने कहा कि यह सुनिश्चित करें कि शहर की सुन्दरता कैसे बढ़ायी जाये इस पर विशेष ध्यान दिया जाय। रैन बसेरा के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि निर्धारित स्थलों पर रैन बसेरा शुरू किया जाये और उसकी सूची आपदा कार्यालय को उपलब्ध करायी जाये। बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) त्रिभुवन विश्वकर्मा, जिला विकास अधिकारी/प्रभारी सीडीओ राकेश प्रसाद, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 बिरजू सिंह यादव, परियोजना निदेशक डीआरडीए आर0सी0 शर्मा, सहित अधिशासी अधिकारी व खण्ड विकास अधिकारी उपस्थित रहे।

About The Author

Latest News

लोगो से जनसम्पर्क कर घर घर बाँटे मोदी की गारन्टी वाले कलेंडर लोगो से जनसम्पर्क कर घर घर बाँटे मोदी की गारन्टी वाले कलेंडर
लोगो से जनसम्पर्क कर घर घर बाँटे मोदी की गारन्टी वाले कलेंडर फ़िरोज़ाबाद ,भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष व महानगर...
14 अप्रेल को धूमधाम से निकाली जायेगी सम्राट अशोक की शोभायात्रा
प्रधानमंत्री मोदी का दौसा में भव्य रोड शो, लोगों ने बरसाए फूल
तेज रफ्तार यात्री बस ने पिता-पुत्र को रौंदा, दोनों की मौत
उदयपुर से जम्मूतवी के लिए स्पेशल साप्ताहिक ट्रेन 25 से
मुख्यमंत्री शनिवार को भादरा व नोहर में जनसभा करने के बाद फतेहपुर में रोड शो करेंगे
 मतदान दलो का प्रशिक्षण शनिवार से प्रारंभ