पल्स पोलियो अभियान को जिला टास्क फोर्स की बैठक

10 से 15 दिसबर तक चलेगा पल्स पोलियो

पल्स पोलियो अभियान को जिला टास्क फोर्स की बैठक

  • शून्य से पाँच साल के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लिया लक्ष्य
लखनऊ। शून्य से पांच साल के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने के लिए अभियान चलाया जाएगा।जिसे छह दिवसीय अभियान दस दिसंबर से शुरू हो रहा है।बुधवार को अभियान की तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी सूर्य पाल गंगवार द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में जिला टास्क फोर्स की बैठक के दौरान रणनीति तय की है।जिलाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि कोई भी बच्चा पोलियो से बचाव की दवा पीने से न रह जाए। जनपद के जो हाई रिस्क एरिया हैं उन पर ज्यादा फोकस करें। आवश्यकता पड़ने पर धर्म गुरुओं और थाना प्रभारियों का सहयोग लिया जा सकता।
 
वहीं जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.एपी मिश्रा ने बताया कि इस अभियान के तहत शून्य से पाँच साल के 7,21,144 बच्चों को पोलियो से बचाव की दवा पिलाने का लक्ष्य है। उन्होंने बताया कि बच्चों को बाइवलेन्ट ओरल पोलियो वैक्सीन दी जाएगी जो कि पोलियो वायरस टाइप-वन और टाइप -3 से सुरक्षा प्रदान करती है। उन्होंने बताया कि पोलियो की दवा बूथ लगाकर और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर भ्रमण कर बच्चों को पिलाई जाएगी। 10 दिसंबर को जिला अस्पताल सहित सभी सीएचसी, पीएचसी और हेल्थ एंड वेलनेस सेन्टर पर प्रातः आठ से शाम चार बजे तक बूथ लगाया जाएगा। इसके साथ ही अंगनबाड़ी केंद्रों, प्राथमिक और अपर प्राथमिक विद्यालयों पर भी बूथ लगेंगे। यह पूर्व की भांति खुलेंगे। विद्यालयों और आंगनबाड़ी केंद्रों पर बूथ दिवस के दिन मिड डे मील और पुष्टा हार का वितरण किया जाएगा। 
 
11 से 15 दिसंबर तक स्वास्थ्य कार्यकर्ता घर-घर जाकर पोलियो से बचाव की दवा पिलाएंगे। इसके अलावा जो बच्चे दवा पीने से रह जाएंगे उनके लिए 15 दिसंबर को मॉप अप राउंड चलाया जाएगा। इस अभियान को सफल बनाने के लिए घर घर जाकर पोलियो से बचाव की दवा पिलाने के लिए 2204 टीमें बनाई गई हैं। इसके अलावा 227 ट्रांजिट टीमों द्वारा साप्ताहिक बाजार, मेले, रेलवे व बस स्टेशन पर तथा 131 मोबाइल टीमों के द्वारा ईंट भट्टों, मलिन बस्ती व निर्माणाधीन स्थलों पर जाकर शून्य से पाँच साल तक की आयु के बच्चों को दो बूंद जिंदगी की पिलाई जाएगी।
 
अभियान के पहले दिन लगाए जाने वाले बूथों की संख्या 2783 है। इसके साथ ही अभियान में 593 सुपरवाइजर और और 6850 वैक्सीनेटर लगाए गये हैं। जिलाधिकारी द्वारा जनपदवासियों से अपील की है कि अभिभावक निकटतम पोलियो बूथ पर जाकर अपने पाँच वर्ष तक की आयु के सभी बच्चों को पोलियो से बचाव की दवा जरूर पिलाएं और इस अभियान को सफल बनाने में सहयोग करें।बैठक में सीएमओ डा. मनोज अग्रवाल, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. आरएन सिंह, डा. गोपी लाल, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एपी सिंह, जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी योगेश रघुवंशी उपस्थित रहे।
 
 
 
 
 
Tags: lucknow

About The Author

Latest News