शराब की दूकानों को विद्यालय, धार्मिक स्थान, दलित बस्तियों के निकट से हटाने की मांग, सौंपा ज्ञापन

शराब की दूकानों को विद्यालय, धार्मिक स्थान, दलित बस्तियों के निकट से हटाने की मांग, सौंपा ज्ञापन

बस्ती - ऑल इण्डिया रियूनियन अध्यक्ष एडवोकेट विक्रम गौतम के नेतृत्व में यूनियन पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओ ने जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा। मांग किया कि शराब के सरकारी ठेकों,ं को विद्यालय, दलित वस्तियों, धार्मिक स्थलों से एक किलोमीटर दूर खोला जाय।
एडवोकेट विक्रम गौतम ने ज्ञापन देने के बाद बताया कि बस्ती जनपद समेत प्रदेश के अनेक जनपद मुख्यालयों, कस्बों व ग्रामीण क्षेत्रों मे विद्यालय, दलित वस्तियों, धार्मिक स्थलों के आस पास नियम विरूद्ध ढंग से  शराब की दूकाने संचालित करायी जा रही हैं। यह पूरी तरह से नियम विरूद्ध है, इस पर व्यापक जनहित में रोक लगाया जाय।
रियूनियन महासचिव संदीप गोयल ने कहा कि विद्यालय, दलित वस्तियों, धार्मिक स्थलों के आस पास शराब की दूकानों के संचालन से वातावरण विकृत होता है। आये दिन लोग शराब का सेवन कर अराजकता की स्थिति पैदा कर देते हैं। शराब की लत के कारण अनेक परिवार बरबाद हो रहे हैं, ऐसे में मानको का पालन कर नियमानुसार की शराब के दूकानों को संचालित कराया जाय।  ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से अनुराग कुमार एडवोकेट, अश्विनी कुमार गौतम, गोविन्द प्रसाद एडवोकेट, आकाश आर्य, रामशंकर आजाद, दीपक कुमार एडवोकेट, सिकन्दर कुमार, दीपक राव, अमरेश चन्द्र, सुरेन्द्र कुमार, शैलेन्द्र कुमार, राकेश कुमार कन्नौजिया, प्रमोद कुमार आदि शामिल रहे। 6

Tags:

About The Author

Sarvesh Srivastava Picture

सर्वेष श्रीवास्तव, उत्तर प्रदेश के बस्ती जनपद के ब्यूरो प्रमुख

Latest News

डीएम और एसपी ने थाना समाधान दिवस पर समस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण का दिया निर्देश  डीएम और एसपी ने थाना समाधान दिवस पर समस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण का दिया निर्देश
बस्ती - आज शनिवार को जिलाधिकारी बस्ती रवीश गुप्ता व पुलिस अधीक्षक बस्ती गोपाल कृष्ण चौधरी द्वारा थाना नगर व...
कोतवाली सदर में डीएम-एसपी ने सुनी समस्याएं, दिए निस्तारण के निर्देश
भारत विकास परिषद मनवर शाखा की बैठक मंें पौधरोपण का निर्णय
ऑन लाइन हाजिरी के विरोध में 15 संगठनों ने बनाया प्रदेश स्तरीय संयुक्त मोर्चा
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के जागरूकता अभियान के तहत किया गया टीबी स्क्रीनिंग का आयोजन
विभागीय अधिकारी समस्या से वाकिफ, झाड़ रहे पल्ला
खून से लथपथ बालिका पहुची घर, माँ को सुनाई आपबीती