इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में छाएंगे शाहरुख खान, 'डंकी' का बजेगा डंका

इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में छाएंगे शाहरुख खान, 'डंकी' का बजेगा डंका

नई दिल्ली। राजकुमार हिरानी अपनी फिल्मों की खूबसूरत कहानी और इमोशन को गहराई से छूने के लिए जाने जाते हैं। अब अपनी हाल ही में रिलीज हुई शाहरुख खान, तापसी पन्नू, विक्की कौशल और बोमन ईरानी स्टारर फिल्म 'डंकी' के साथ सभी को इंप्रेस करना जारी रखे हुए हैं। फिल्म ने देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी मौजूद दर्शकों का दिल जीता है और इस तरह से यह एक और उपलब्धि अपने नाम करने जा रही है। फिल्म ने न सिर्फ भारत में बल्कि दुनिया भर में अपनी छाप छोड़ी है। लोगों को शाहरुख खान और बाकी कलाकारों की एक्टिंग भी खूब पसंद आई। फिल्म का असर अभी भी देखने मिल रहा है, क्योंकि राजकुमार हिरानी को शंघाई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (SIFF) में 'डंकी' फिल्म स्क्रीन करने के लिए इन्वाइट किया गया है।

तीन अलग-अलग दिन होगी प्रदर्शित
राजकुमार हिरानी को SIFF में फिल्म रिप्रेजेंटेटिव के तौर पर इन्वाइट किया गया है। बता दें कि 'डंकी' को 14 से 23 जून तक होने वाले SIFF 2024 के इंटरनेशनल पैनोरमा सेक्शन के लिए चुना गया है। शंघाई इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल में 15, 18 और 20 जून को 'डंकी' की स्क्रीनिंग होगी। राजकुमार हिरानी के साथ ही फिल्मी इंडस्ट्री के लिए भी ये गर्व करने का मौका है। फिल्म को वैश्विक स्तर पर पहचान मिल रही है। शंघाई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (SIFF) की स्थापना 1993 में हुई थी और इसे इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म फेस्टिवल द्वारा मान्यता प्राप्त नॉन-स्पेशलाइज्ड कॉम्पिटेटिव फिल्म फेस्टिवल में से एक माना जाता है।

बॉक्स ऑफिस पर प्रदर्शन
फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन किया और विश्व बॉक्स ऑफिस पर 500 करोड़ की कमाई की। यह शाहरुख खान की 2023 की तीसरी फिल्म थी। उन्होंने 4 साल के लंबे अंतराल के बाद वापसी की। हालांकि, शाहरुख की इस साल कोई रिलीज नहीं हो रही है। अभिनेता ने अपनी आगामी फिल्मों की भी घोषणा नहीं की है, लेकिन रिपोर्ट्स बताती हैं कि वह KGF फेम अभिनेता यश की अगली फिल्म 'टॉक्सिक' में कैमियो कर सकते हैं।

फिल्म के बारे में और जानकारी
अनजान लोगों के लिए बता दें कि 'डंकी' शब्द एक पंजाबी मुहावरा है, जिसका मतलब है एक जगह से दूसरी जगह जाना। जब लोगों को अलग-अलग देशों में रोककर अवैध तरीके से दूसरे देश भेजा जाता है तो इसे डंकी मार्ग कहा जाता है। अमेरिका, कनाडा और कुछ यूरोपीय देशों तक पहुंचने के लिए इस मार्ग या रास्ते को अवैध तरीके से प्रयोग किया जाता है। बता दें, फिल्म की कहानी से कई लोग रिलेट कर सके और यही वजह रही कि इसे काफी दर्शक मिले।

 

Tags: film

About The Author

Tarunmitra Picture

‘तरुणमित्र’ श्रम ही आधार, सिर्फ खबरों से सरोकार। के तर्ज पर प्रकाशित होने वाला ऐसा समचाार पत्र है जो वर्ष 1978 में पूर्वी उत्तर प्रदेश के जौनपुर जैसे सुविधाविहीन शहर से स्व0 समूह सम्पादक कैलाशनाथ के श्रम के बदौलत प्रकाशित होकर आज पांच प्रदेश (उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और उत्तराखण्ड) तक अपनी पहुंच बना चुका है। 

Latest News

ये है जनता का जनादेश, भाजपा की उल्टी गिनती शुरू - धीरेंद्र प्रताप  ये है जनता का जनादेश, भाजपा की उल्टी गिनती शुरू - धीरेंद्र प्रताप 
उत्तराखंड कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और पूर्व कैबिनेट मंत्री धीरेंद्र प्रताप ने कहा है कि उत्तराखंड में हुए उप चुनाव...
डीएम और एसपी ने थाना समाधान दिवस पर समस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण का दिया निर्देश
कोतवाली सदर में डीएम-एसपी ने सुनी समस्याएं, दिए निस्तारण के निर्देश
भारत विकास परिषद मनवर शाखा की बैठक मंें पौधरोपण का निर्णय
ऑन लाइन हाजिरी के विरोध में 15 संगठनों ने बनाया प्रदेश स्तरीय संयुक्त मोर्चा
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के जागरूकता अभियान के तहत किया गया टीबी स्क्रीनिंग का आयोजन
विभागीय अधिकारी समस्या से वाकिफ, झाड़ रहे पल्ला