क्रॉप कटिंग में प्रति हेक्टेयर 69 क्विंटल धान की उपज 

संझौली(रोहतास) प्रखंड के करमैन पंचायत अंतर्गत आमाडाढ गांव में धान की क्रॉप कटिंग की गई। किसान विजेंद्र सिंह के प्लॉट में तैयार धान की कटनी प्रखंड सांख्यिकी पदाधिकारी दीपक कुमार दीपांकर के नेतृत्व में वैज्ञानिक विधि से की गई। 10 मीटर लंबी और पांच मीटर चौड़ाई में कटनी के बाद 34 किलो 760 ग्राम यानि प्रति हेक्टेयर 69.52 क्विंटल उपज आंकी गई। प्रति एकड़ 28.14 क्विंटल धान की उपज पिछले वर्ष से अच्छी मानी जा रही है। इससे पूर्व सांख्यिकी पदाधिकारी द्वारा किसानों से खेती करने की विधि की जानकारी ली और खेती में आने वाले समस्याओं से बारे में पूछा। उन्होंने किसानों को वैज्ञानिक विधि से खेती करने के साथ उसका भंडारण , अच्छे बीज व खेतों में फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले कीट पतंगों से बचाव के उपाय बताएं। उन्होंने खेतो में पराली नही जलाने के प्रति भी किसानों को जागरूक नही। कहा कि यह क्षेत्र धान के कटोरे के रूप में प्रसिद्ध है। यहां की धान से बने चावल पूरे देश में निर्यात होते है। बस थोड़ी जागरूकता के साथ मेहनत की आवश्यकता है। नहरों के मामले में भी यह क्षेत्र अच्छा है। किसानों को अपनी खेतों की मिट्टी की प्रत्येक वर्ष जांच करानी चाहिए। 69.52 प्रति हेक्टेयर धान की उपज अच्छी कही जायेगी। अगर वैज्ञानिकों के सलाह पर अगर खेती की जाए तो उपज में बढ़ोतरी की संभावना है बढ़ जाएगी। क्रॉप कटिंग में किसान सलाहकार हरिद्वार प्रसाद , एटीएम अभिषेक कुमार सहित कई किसान भी मौजूद थे।
 
Tags:

About The Author

Latest News